विवाद में बिखरा परिवारः आपसी कलह से परेशान मां ने दो बच्चों सहित खाया जहर, बच्चे ने तड़प-तड़पकर तोड़ा दम

विवाद में बिखरा परिवारः आपसी कलह से परेशान मां ने दो बच्चों सहित खाया जहर, बच्चे ने तड़प-तड़पकर तोड़ा दम

PATNA: राजधानी पटना में घर के आपसी कलह से परेशान मां ने बेहद ही निर्ममतापूर्ण फैसला लिया। अपने पीछे दो बच्चों को छोड़ने की चिंता से परेशान मां ने पहले दो मासूमों को जहर दिया, फिर खुद भी जहर खाकर छत से कूद पड़ी। इस हादसे में एक बच्चे की मौत घर में ही हो गई, जबकि दूसरा मासूम बच्चा और उसकी मां जिंदगी और मौत के बीच पटना एम्स में जूझ रहे हैं।

बेहद ही परेशान कर देने वाली यह खबर पटना जिले के फुलवारी शरीफ के कुरकुरी गांव की है पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए महिला के ससुर को हिरासत में ले लिया और पूछताछ के लिए थाना ले आए। मिली जानकारी के अनुसार कुरकुरी गांव के अलक कुमार के बेटे शैलेश कुमार की शादी लगभग 4 से 5 वर्ष पूर्व फुलवारी शरीफ के खलील पुरा गांव की बबली कुमारी से हुई थी। शैलेश कुमार रेलवे में नौकरी करता है और फिलहाल शैलेश कुमार रांची में पदस्थापित है। आसपास के लोगों ने बताया कि शैलेश कुमार के पिता अलख कुमार फुलवारी शरीफ के खोजा इमली के नजदीक किराने की दुकान चलाते हैं। शैलेश कुमार के 2 पुत्र शिवम कुमार (3 वर्ष ) और ओम कुमार( 2 वर्ष ) का बेटा है। गांव के लोगों ने बताया कि अपने सास और ससुर से परेशान बबली सोमवार की देर रात अपने दोनों बच्चे शिवम कुमार एवं ओम कुमार को जहर देकर खुद ही जहर खा लिया। बबली कुमारी ने जहर खाने के बाद इस बात की जानकारी रांची में रह रहे अपने पति शैलेश कुमार को फोन दे दी। सूचना मिलते ही शैलेश कुमार ने गांव में अपने कुछ दोस्तों को इस बात की जानकारी दी। सूचना मिलते ही कुरकुरी गांव में अफरा तफरी का माहौल बन गया और शैलेश कुमार के कुछ दोस्त जब उनके घर पहुंचे तो अंदर से किवाड़ बंद था।

गांव के लोगों ने किसी तरह किवाड़ तोड़कर जब घर में प्रवेश किया तो शैलेश कुमार की पत्नी गुस्से से पागल अपने हाथ में चाकू लिए खड़ी थी। जब लोगों ने उसे रोकना चाहा तो शैलेश की पत्नी 2 तल्ले छत पर पहुंचकर छत से नीचे कूद पड़ी। लोगों ने जब उनके बच्चों की तलाश करना शुरू की तो एक कमरे में दोनों बच्चे अचेत अवस्था में पड़े थे। आनन-फानन में लोगों ने तीनों को एक नर्सिंग होम में भर्ती कराया जहां इलाज के दौरान ओम कुमार 2 वर्ष के बच्चे की मौत हो गई। 

लोगों ने उसके बेहतर इलाज के लिए शिवम कुमार और बबली कुमारी को पटना के एम्स में भर्ती कराया जहां उसकी स्थिति गंभीर बनी हुई है। गांव के लोगों की माने तो चुकी शैलेश कुमार बाहर नौकरी करता था। घर में बच्चों सग अकेली बबली  सास-ससुर के प्रताड़ना से काफी परेशान थी। घटना की पुष्टि करते हुए थाना प्रभारी रफीकुल रहमान ने बताया कि मामले की छानबीन की जा रही है।

Find Us on Facebook

Trending News