दो बच्चों के पिता ने इंटर की छात्रा की हत्या कर बागान में छोड़ दी लाश, पुलिस ने कहा प्रेम प्रसंग में हुई है हत्या

दो बच्चों के पिता ने इंटर की छात्रा की हत्या कर बागान में छोड़ दी लाश, पुलिस ने कहा प्रेम प्रसंग में हुई है हत्या

BHAGALPUR :  नवगछिया पुलिस जिला के खरीक थाना से महज ढाई किलोमीटर की दूरी पर एनएच 31 बगरी चौक से दक्षिणी ईट सोलिंग सड़क के ठीक बगल में एक लीची के बगीचे में खगड़िया जिला के गोगरी थाना क्षेत्र के फुलवरिया से अगवा 19 वर्षीय युवती को जहर खिलाकर गला दबा कर हत्यारे ने युवती के गले में फांसी लगाकर निर्मम हत्या कर दी.मृतका के गले पर फांसी का काला निशान स्पष्ट दिख रहा था. मृतका के शरीर के दायां बांह समेत अन्य हिस्सों पर जख्म के निशान पाए गए.हल्का ब्लू जींस और स्कर्ट पहनी हुई थी.  मृतका के लाश को देखने से ऐसा प्रतीत होता है संभवतःहत्यारों ने उसकी हत्या गुरुवार की शाम ही जहर  खिलाकर गला दबा कर दी,शुक्रवार की सुबह मृतका के लाश से बदबू आने लगी थी.

हत्या की वारदात को खुदकुशी का रूप  देने के लिए मृतका के शव के आसपास जहर छिड़का हुआ  था. शादीशुदा युवक भी हल्का जहर का घूंट पीकर शव के बगल में लेटा हुआ था. प्रथम दृष्टया देखने से हत्या की वारदात को खुदकुशी का रूप दिया जा सके. बगल में एक गमछा  रखा हुआ था। घटना की सूचना से आसपास के लोगों में सनसनी फैल गयी.अहले सुबह  घटना की सूचना मिलने पर हत्यारे युवक के परिजनों ने मृतका के बगल में जहर पीकर लेटे शादीशुदा युवक को आनन-फानन में इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया.

क्या कहते हैं परिजन

 मृतक के परिजन खगड़िया जिला के गोगरी थाना क्षेत्र अंतर्गत फुलवरिया निवासी मृतका की मां सरिता देवी,पिता प्रभाकर सिंह,भाइयों हरिकांत,जयकांत और चाचा बादल ने बताया कि गुरुवार को खुशबू अपने घर से टेन प्लस टू का फॉर्म भरने के लिए इंटर स्कूल नौरंगा गयी थी. देर शाम तक लौट कर खुशबू घर नहीं आयी.हम लोगों को किसी अनहोनी की आशंका होने लगी.आसपास के रिश्तेदारों के यहां फोन कर छानबीन किया लेकिन कोई पता नहीं चला.मृतका के भाई के मोबाइल नंबर पर अगवा करने वाले युवक बगरी निवासी कन्हैया यादव का दो बार कॉल आया. एक कॉल 3:30 पर और दूसरा कॉल दूसरे नंबर से गुरुवार को 7:00 बजे शाम आया. फोन पर बात नहीं हो पर रही थी. खुशबू के मोबाइल नंबर पर देर शाम तक कई बार फोन किया, रिंग हुआ लेकिन मोबाइल रिसीव नहीं हो रहा था. आशंका है कि बगड़ी के कन्हैया यादव ने खुशबू को अगवा  कर हत्या कर दी..बेटी की लाश को देखकर गुस्साए पिता प्रभाकर सिंह ने कहा बेटी की हत्या का बदला लेकर रहेंगे और जिन जिन लोगों ने मेरी बेटी को तड़पा तड़पा के मारा है हम उसे छोड़ेंगे नहीं.

तीन साल से कन्हैया और खुश्बू में था प्रेम प्रसंग, घरवाले अनजान

बताया जाता है कि खुश्बू कुमारी का दो बच्चे के पिता 36 वर्षीय कन्हैया यादव से पिछले तीन साल से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। वही घरवालों को इस बात की भनक तक नहीं थी। हत्यारा कन्हैया चोरहर पंचायत के पूर्व मुखिया आसित रंजन उर्फ पिंकू यादव का गाड़ी का चालक है। बताया जाता है शादीशुदा होकर भी अविवाहित युक्ती को प्रेमजाल में फंसाकर उसे तीन साल से हवस का शिकार बना रहा था जब आरोपित कन्हैया से अनुमंडल अस्पताल में पूछा गया कि उसने खुश्बू को क्यों मारा तो कन्हैया ने बताया कि उसका किसी और लड़के से चक्कर चल रहा था। इस बात का पता उसे चल गया जिसके बाद उसे खगड़िया से किसी तरह लाया और दिनभर उसे साथ में ही इधर उधर घुमाया , फिर रात होते उसे बगीचे में ले जाकर गमछे से गला दबाकर मार दिया और खुद थोड़ा सा विष मुह से लगाकर नर्वस होने का नाटक करके युवती के शव के बगल में सो गया।

पुलिस ने  घटनास्थल को अपने कब्जे में लेकर हत्या के कारणों की जांच शुरू कर दी.आईएफएसएल की टीम ने घटनास्थल की जांच की और घटनास्थल पर मौजूद परिस्थिति जन्य साक्ष्य का सैंपल अपने साथ ले गए.घटना स्थल से पुलिस ने मृतका के शव के बगल में मृतका का चप्पल,सफेद गमछा, बरामद किया साथ ही पूर्व में घटनास्थल पर मौजूद मोटरसाइकिल और अन्य सामान की बरामदगी के लिए छानबीन कर रही है.घटना की सूचना मृतका के परिजनों को दी गयी.सूचना मिलने पर मृतका की माँ सरिता देवी,पिता प्रभाकर सिंह,बड़ा भाई हरिकांत कुमार,चाचा बादल कुमार,भाई जयकांत कुमार सभी घटनास्थल पर पहुंचे और दहाड़ मार कर रोने लगे. इधर देर शाम शव का पोस्टमार्टम कराकर परीजन को सौप दिया गया। इस बारे में नवगछिया एसपी सुशांत कुमार सरोज ने बताया कि मामला प्रेम-प्रसंग का है। मामले में पुलिस हर एक बिंदुओं पर गहनता से पड़ताल करने में जुटी है। जांच रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्यवाई होगी।

पुलिस प्रेम प्रसंग का नाटक कर रहे युवक से गहन पूछताछ कर रही है. प्रेम प्रसंग का नाटक कर रहा युवक दो बच्चे का पिता है. वारदात को अंजाम देने में गिरफ्तार युवक सहित अन्य अपराधियों की संलिप्तता रही  होगी  इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता. डीएसपी दिलीप कुमार ने घटनास्थल पर बगरी निवासी चोरहर पंचायत के पूर्व मुखिया आशीष रंजन उर्फ पिंकू यादव से घटना के बारे में गहनता से  पूछताछ की.  पुलिस को इस बात की जानकारी मिली है कि अगवा कर जहर पिला कर गला दबाकर हत्या की वारदात को अंजाम देने वाला कन्हैया यादव चोरहर के पूर्व मुखिया पिंकू यादव का ड्राइवर था. घटना को अंजाम देने के दिन कन्हैया यादव पूर्व मुखिया पिंकू यादव से कुछ नगद  ₹4000 रुपया पारिश्रमिक के रूप में लिया था. पुलिस इस बिंदु पर भी छानबीन कर रही है. वहीं पूर्व मुखिया पिंकू यादव का कहना है कि घटनास्थल पर युवक जीवन मौत से जूझ रहा था. पुलिस को सूचना देकर परिजनों ने युवक को इलाज के लिए ले गया इसमें गुनाह क्या है. देर करता तो युवक की जान चली जाती.


Find Us on Facebook

Trending News