फिल्म अभिनेता ने 1,080 एकड़ जंगल लिया गोद, वन भूमि से इस जुड़ाव का ‘गोलमाल’ कारण जानकर हो जाएंगे हैरान

फिल्म अभिनेता ने 1,080 एकड़ जंगल लिया गोद, वन भूमि से इस जुड़ाव का ‘गोलमाल’ कारण जानकर हो जाएंगे हैरान

DESK. दिल्ली. लोगों को लावारिस पशुओं को गोद लेते सुना जाता है. कुछ लोग अनाथ बच्चों को गोद लेते हैं तो कुछ ऐसे भी होते हैं जो बुजुर्गों की सेवा के लिए वृद्धाश्रम को ही गोद ले लेते हैं. लेकिन अब एक अभिनेता ने जंगल को गोद लिया है जो अपनी किस्म का अनोखा मामला है. तेलुगू फिल्मों के लोकप्रिय अभिनेता नागार्जुन ने 1,080 एकड़ जंगल गोद लिया है. उन्होंने ग्रीन इंडिया चैलेंज के तहत यह पहल की है. 

नागार्जुन अपने पिता अक्किनेनी नागेश्वर राव के नाम पर हैदराबाद के बाहरी इलाके में चेंगिचेरला वन क्षेत्र में एक शहरी पार्क का निर्माण करने के लिए आगे आए हैं. यानी अब तक जो भूमि वन क्षेत्र थी उसे अब शहरी पार्क के तौर पर विकसित किया जाएगा लेकिन इसकी मूलता से कोई छेडछाड नहीं होगा. यह वन भूमि के रूप में ही रहेगा. इसके शिलान्यास के मौके पर सांसद जे संतोष कुमार के साथ नागार्जुन अपने परिवार के सदस्यों के साथ शामिल हुए. वन क्षेत्र के विकास के लिए उन्होंने मुख्यमंत्री हरिता निधि में 2 करोड़ रुपए का चेक दिया..

नागार्जुन ने कहा कि सांसद संतोष कुमार ने राज्य और देश में पर्यावरण को पर्यावरण के अनुकूल और हमारे पर्यावरण को स्वच्छ बनाने के लिए ग्रीन इंडिया चैलेंज कार्यक्रम शुरू किया था. इस मौके पर संतोष कुमार ने भी कई पौधे लगाए। पिछले बिग बॉस सीजन (तेलुगू) के फाइनल में उन्होंने कहा था कि उन्होंने सांसद संतोष कुमार के साथ वनभूमि को अपनाने पर चर्चा की और मंच पर घोषणा की कि वह वनभूमि को अपनाएंगे. उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है कि उन्होंने शहरी वन पार्क की आधारशिला रखी, जैसा कि उन्होंने कार्यक्रम में घोषणा की थी। यह वन क्षेत्र पार्क कॉलोनियों में रहने वाले लोगों की काफी मदद करेगा.

सांसद संतोष कुमार ने नागार्जुन के ग्रीन इंडिया चैलेंज कार्यक्रम में भाग लेने के लिए उनकी तारीफ की. सांसद ने कहा कि ए नागेश्वर राव के नाम पर अर्बन पार्क की स्थापना के साथ ही खाली क्षेत्रों में एक लाख पौधे लगाए जाएंगे. हैदराबाद के आसपास 1.50 लाख एकड़ से अधिक वन भूमि को ग्रीन इंडिया चैलेंज कार्यक्रम के हिस्से के रूप में संरक्षित, संरक्षित और विकसित किया जाएगा. उन्होंने इस जिम्मेदारी को उठाने के लिए व्यवसायियों, उद्यमियों और संगठनों से आगे आने की अपील की.

चेंगिचेरला वन ब्लॉक हैदराबाद वारंगल राजमार्ग पर उप्पल-मेडिपल्ली क्षेत्र में है और शहरीकरण के बीच 1,682 एकड़ वन भूमि है. गोद लेने पर नागार्जुन ने 1,080 एकड़ जमीन ली. भूमि के एक भाग में शहरी पार्क विकसित किया जाएगा और शेष भाग में वन क्षेत्रों का पुनरुद्धार किया जाएगा. अधिकारियों ने कहा कि यह पार्क मेडिपल्ली से चेंगिचेरला, चेरलापल्ली और ईसीआईएल क्षेत्रों में रहने वालों के लिए उपयोगी होगा.


Find Us on Facebook

Trending News