बिना निरीक्षण दूसरे गांव को घोषित कर दिया बाढ़ प्रभावित क्षेत्र, आक्रोशित ग्रामीणों ने सीओ को पीटा

बिना निरीक्षण दूसरे गांव को घोषित कर दिया बाढ़ प्रभावित क्षेत्र, आक्रोशित ग्रामीणों ने सीओ को पीटा

SITAMARHI : मोतिहारी के बाद अब सीतामढ़ी जिले में एक सीओ की पिटाई का मामला सामने आया है। घटना जिला मुख्यालय डुमरा के मेथौरा पंचायत की है। जहां बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का भ्रमण करने गए सीओ समीर कुमार और कर्मचारी आनंद कुमार झा के साथ ग्रामीणों ने मारपीट की है।

बाढ़ राहत कार्य नहीं मिलने से आक्रोशित ग्रामीणों ने सीओ के गाड़ी को भी क्षतिग्रस्त कर दिया है। इस दौरान सैकड़ो की संख्या में उपस्थित महिला पुरुष ने सीओ और कर्मचारी को नदी मे फेकने कि भी कोशिश की। लेकिन समय पर पहुंची डूमरा थाना पुलिस ने दोनों को ग्रामीणों के चंगुल से छुड़ा लिया। 

ग्रामीणों का आरोप था कि मेथौरा गांव में बाढ़ के कारन जनजीवन पूरी तरह से अस्त व्यस्त है। लोग अपने घर से निकल कर बाहर रहने को मजबूर है। लोग भूखे पेट सो रहे है। लेकिन सीओ और कर्मचारी ने बिना निरीक्षण  किए ही इस गांव के बदले दूसरे गांव को बाढ़ प्रभावित क्षेत्र घोषित कर दिया है।

बता दें कि सीतामढ़ी जिला भीषण बाढ़ से प्रभावित है। जिसे के कई गांव पूरी तरह से जलमग्न हो गये है। जिला मुख्यालय से संपर्क भंग हो गया है। बाढ़ की विभिषका का जायजा लेने के लिए सीएम नीतीश कुमार ने कल रविवार को जिले का दौरा किया था। 

मुख्यमंत्री ने इस दौरान बाढ़ राहत में तेजी लाने का निर्देश अधिकारियों को दिया था। 

सीतामढ़ी से आदित्यानंद आर्य की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News