बेतिया में बाढ़ का कहर : लौरिया-नरकटियागंज पथ पर बह रहा है दो फीट पानी

बेतिया में बाढ़ का कहर : लौरिया-नरकटियागंज पथ पर बह रहा है दो फीट पानी

BETTIAH : कोशी बराज के 41 गेट खोल दिए गए हैं. इससे उत्तर बिहार के कई जिलों पर बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है. वहीँ लगातार हो रही बारिश से उत्तर बिहार की कई नदियाँ उफान पर है. पश्चिम चंपारण जिले में लौरिया-नरकटियागंज और लौरिया-रामनगर मुख्य पथ पर दो फीट से अधिक पानी बहने के कारण प्रखण्ड मुख्यालय और जिला मुख्यालय का संपर्क टूट गया है. 

दोनों जगह नए पुल का निर्माण होने से डायवर्शन भी टूट गया है. पानी जमा होने से सैकड़ो एकड़ मे लगे धान के बिचड़े भी हुए बर्बाद हो गए हैं. इससे किसानो को चेहरों पर मायूसी छा गयी है. 

बताया जा रहा है कि लगातार छह दिनों से हो रही बारिश के कारण लौरिया-नरकटियागंज और लौरिया-रामनगर मुख्य पथ पर कल देर रात्री से ही सिकरहना नदी का पानी बहने लगा है. इससे दोनों ही मार्ग पर आवागमन पूरी तरह से बाधित हो गया है. 

दोनों मुख्य पथ पर करीब दो फीट से अधिक पानी मुख्य पथ पर बहने लगा है. पानी बहने से दर्जनों गांवों का लौरिया प्रखण्ड मुख्यालय और बेतिया जिला मुख्यालय का संपर्क टूट गयाहै.जिससे लोगो को परेशानी झेलना पड़ रहा है. पानी आ जाने से सबसे अधिक तबाही लौरिया से सटे गोनौली , सुअरछाप ,केहुनीया , रमौली जैसे कई गाँव प्रभावितहुए हैं. 

लौरिया के अंचलाधिकारी ने बताया की लौरिया-नरकटियागंज और लौरिया-रामनगर मुख्य पथ का डावर्शन टूट गया है. जिसकी मरम्मत कराई जा रही है. पानी सिकरहना नदी का है.

बेतिया से आशीष कुमार की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News