भारी बारिश से राज्य की तीन नदियों में उफान, इन जिलों पर मंडराया बाढ़ का खतरा, प्रशासन ने जारी किया अलर्ट

भारी बारिश से राज्य की तीन नदियों में उफान, इन जिलों पर मंडराया बाढ़ का खतरा, प्रशासन ने जारी किया अलर्ट

PATNA : प्रदेश में पिछले 24 घंटे से हो रही भारी बारिश से राज्य की तीन नदियां बागमती, लालबकेया और कमला बलान पुरे उफान पर है। इन तीनों नदियों का जलस्तर लाल रेखा को पार कर गईं। पिछले 24 घंटे के अंदर इन नदियों के जलस्तर में डेढ़ से दो मीटर तक की वृद्धि हुई है। वहीं दो अन्य नदियां महानंदा और भुतही बलान भी खतरे के निशान छूने को बेताब हैं। 

इन नदियों में अचानक उफान से उत्तर बिहार और पूर्व बिहार के साथ कोसी इलाके में भी बाढ़ की आशंका गंभीर हो गई है। खास बात यह है कि पटना में पुनपुन को छोड़ राज्य में सभी नदियों का जलस्तर बढ़ता जा रहा है।

नदियों में अचानक उफान से मुजफ्फरपुर के कटरा के पास बागमती पर बना पीपा पुल और डायवर्सन बह गया। बेनीपुर में दक्षिणी उपधारा के पास काफर बांध 70 फुट तक कट गया। उधर, गंडक की तेज धारा ने गोपालगंज के बरौली में कटाव शुरू कर दिया है। नेपाल में वर्षा होने के बाद भी कोसी नदी का डिस्चार्ज अभी तक सीमा में है। 

बागमती सीतामढ़ी के ढेंग में खतरे के निशान से 95 सेमी ऊपर बह रही है। यह नदी सोनखान में लाल निशान से 82 व डुबाधार में 44 सेमी ऊपर बह रही है। लालबकेया पूर्वी चम्पारण के गौवाबारी में लाल निशान से 15 सेमी ऊपर है, तो कमला बलान झंझारपुर रेल पुल के पास लाल निशान से 65 सेमी ऊपर है। महानंदा पूर्णिया के धनगरहाघाट में लाल निशान से मात्र नौ मिमी नीचे बह रही है। भूतही बलान मधुबनी के बायें तटबंध के पास लाल निशान से मात्र 13 मिमी नीचे बह रही है। 

मौसम विभाग की सूचना के अनुसार बागमती नदी के क्षेत्र में खतरा और गंभीर हो सकता है। बागमती के साथ अधवरा समूह की नदियों के जलग्रहण क्षेत्र में अगले 24 घंटे में सबसे अधिक वर्षा की चेतावनी है। इसके जलग्रहण क्षेत्र नेपाल के जनकपुर में शुक्रवार को 204 मिमी तक वर्षा होने का अनुमान है। कमला नदी के जलग्रहण क्षेत्र सिराहा में 128 और बूढ़ी गंडक के क्षेत्र सिमरा में 129 मिमी तक वर्षा होने की चेतावनी जारी की गई है। .

जल संसाधन विभाग ने तटबंधों के बचाव के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। हालांकि कुछ जगहों पर नदियों की तेज धार के कारण इंजीनियर विवश दिख रहे हैं। बावजूद सभी इंजीनियरों को 24 घंटे सचेत रहने का निर्देश दिया गया है।

Find Us on Facebook

Trending News