EVM की शुरुआत के बाद पहली बार देश के इस लोकसभा सीट पर बैलेट पेपर से होगा मतदान, जानिए क्या है वजह.....

EVM की शुरुआत के बाद पहली बार देश के इस लोकसभा सीट पर बैलेट पेपर से होगा मतदान, जानिए क्या है वजह.....

NEWS4NATION DESK : EVM की शुरुआत के बाद से पहली बार आपको फिर एकबार पुराने दौर के बैलेट पेपर के माध्यम से मतदान करते देखने को मिल सकता है। दरअसल तेलंगाना के निजामाबाद सीट पर ईवीएम की जगह बैलेट पेपर के जरिए मतदान हो सकता है। इसका कारण यह है कि यहां से 185 उम्मीदवार चुनाव मैदान में है। 

अब चूंकि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (EVM) का इस्तेमाल ज्यादा से ज्यादा 64 उम्मीदवारों के लिए ही किया जा सकता है। ऐसे में चुनाव अधिकारियों का कहना है कि निजामाबाद में इस बार चुनाव बैलट पेपर के जरिए कराए जाएंगे।

तेलंगाना सीट से फिलहाल सीएम और टीआरएस प्रमुख के चंद्रशेखर राव की बेटी कल्वकुंतला कविता सांसद है। अगले महीने होने वाले चुनावों के लिए इस सीट से कुल 185 उम्मीवारों ने नामांकन किया है। वहीं नाम वापस लेने की तिथि गुरुवार को ही समाप्त हो गई है। ऐसे में इस सीट से सभी 185 प्रत्याशी चुनाव मैदान में है। 

ईवीएम में ज्यादा से ज्यादा 64 प्रत्य़ाशियों को ही लिया जा सकता है। मुख्य चुनाव पदाधिकारी रजत कुमार ने बताया कि 185 प्रत्याशियों के चुनाव मैदान में होने की वजह से यहां ईवीएम से चुनाव कराना संभव नहीं है। ऐसे में बैलेट पेपर ही विकल्प है। 

तेलंगाना सीट से जिन 178 किसानों ने नामांकन किया है इनमें ज्यादातर हल्दी और लाल ज्वार की खेती करते हैं। बताया जा रहा है कि इन्होंने इतनी बड़ी संख्या में नामांकन इसलिए किया है ताकि प्रशासन का ध्यान उनकी ओर जाए और उनके समस्याओं का समाधान हो। इन किसानों को खासकर कृषि मजदूरी के भुगतान संबंधी समस्या है।

वैसे ऐसा पहली बार नहीं हुआ है किसी सीट से इतनी बड़ी संख्या में कैंडिडेट एक ही सीट से मैदान में हैं। इससे पहले वर्ष 1996  में तमिलनाडु विधानसभा चुनाव में इरोड के पास मोडाकुरुची सीट पर बहुत से प्रत्याशी चुनाव में खड़े हुए थे। उस समय चुनाव मैदान में कुल 1,033 प्रत्याशी चुनाव मैदान में थे और चुनाव आयोग को बैलेट बॉक्स की जगह बैलेट बुक छपवानी पड़ी थी।

Find Us on Facebook

Trending News