राज्य सभा चुनाव के लिए भाजपा ने सभी राज्यों में नियुक्त किए प्रभारी लेकिन बिहार में नहीं आई प्रभारी की नौबत

राज्य सभा चुनाव के लिए भाजपा ने सभी राज्यों में नियुक्त किए प्रभारी लेकिन बिहार में नहीं आई प्रभारी की नौबत

पटना. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने आगामी राज्यसभा चुनावों के लिए बुधवार को केंद्रीय मंत्रियों नरेंद्र सिंह तोमर और गजेंद्र सिंह शेखावत को क्रमश: राजस्थान और हरियाणा का प्रभारी नियुक्त किया। दोनों ही राज्यों में भाजपा समर्थित निर्दलीय उम्मीदवारों के चुनावी मैदान में उतरने से मुकाबला नजदीकी और रोचक हो गया है। 

पार्टी की आर से जारी एक आधिकारिक बयान के मुताबिक केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव को महाराष्ट्र में राज्यसभा चुनाव के लिए प्रभारी बनाया गया है। इस राज्य में भी राज्यसभा चुनाव में कांटे की टक्कर देखने को मिल सकती है। केंद्रीय मंत्री जी. किशन रेड्डी को कर्नाटक में राज्यसभा चुनाव के लिए प्रभारी नियुक्त किया गया है। देश के 15 राज्यों से राज्यसभा की 57 सीटों को भरने के लिए 10 जून को चुनाव होने हैं। उत्तर प्रदेश से 11 सीटें, तमिलनाडु और महाराष्ट्र से छह-छह, बिहार से पांच तथा आंध्र प्रदेश, राजस्थान और कर्नाटक से चार-चार सीटें खाली हो रही हैं। 

इनके अलावा, मध्य प्रदेश और ओडिशा से तीन-तीन, तेलंगाना, छत्तीसगढ़, पंजाब, झारखंड और हरियाणा से दो-दो तथा उत्तराखंड से एक सीट खाली हो रही है। नामांकन पत्रों की जांच एक जून को होगी, जबकि नाम वापस लेने की अंतिम तिथि तीन जून है। नतीजे 10 जून को घोषित किये जाएंगे।

हालांकि बिहार में होने जा रहे है 2 सीटों के चुनाव के लिए किसी को प्रभारी नियुक्त करने की नौबत नहीं आई है. इसका मुख्य कारण बिहार में सभी सीटों पर निर्विरोध हो रहा निर्वाचन है. भाजपा ने 2 और जदयू ने 1 सीट पर उम्मीदवार उतारा है जबकि राजद के दो उम्मीदवार हैं. इसलिए पंचों सीटों पर सभी का निर्वाचन निर्विरोध होना तय है. भाजपा या अन्य दलों को इन्हीं कारणों से यहां किसी को प्रभारी नियुक्त करने की जरूरत नहीं हुई है. 


Find Us on Facebook

Trending News