बिहार के पूर्व CM ने फिर उठाया शराबबंदी पर सवाल, कहा- 'थोड़ी-थोड़ी लेने में कोई नुकसान नहीं'

बिहार के पूर्व CM ने फिर उठाया शराबबंदी पर सवाल, कहा- 'थोड़ी-थोड़ी लेने में कोई नुकसान नहीं'

पटना. बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने एक बार फिर बिहार में शराबबंदी कानून पर सवाल उठाया है। नीतीश सरकार के सहयोगी दल के सुप्रीमो ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि थोड़ी-थोड़ी मात्रा में शराब पीने से शरारी को कोई नुकसान नहीं पहुंचता है, बल्कि इससे फायदा ही होता है। उन्होंने मेडिकल साइंस को रेखाकिंत करते हुए कहा कि मेडिकल साइंस ने भी थोड़ी मात्रा में शराब लेने को सेहतमंद माना है। 

दरअसल में बुधवार को पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी बक्सर पहुंचे। यहां उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबंधित किया। यहां उन्होंने मीडिया के सवाल पर बिहार सरकार की शराबबंदी कानून को कठघरे में लेते हुए कहा कि हम तो चाहते हैं कि बिहार में शराबबंदी कानून को खत्म किया जाए। उन्होंने कहा कि इसको लेकर हम कई बार कह चुके हैं। साथ ही उन्होंने मेडिकल साइंस का हवाले देते हुए कहा कि थोड़ी मात्रा में शराब पीने से शरीर को कोई नुकसान नहीं पहुंचता है।

अनुसूचित जाति जनजाति के उत्थान के लिए गठित विधानसभा की पांच सदस्य टीम बक्सर पहुंची हुई है। इसमें मांझी के साथ ही मखदुमपुर विधायक सतीश कुमार, मनोज मंजिल, रेखा देवी व जयंती देवी शामिल हैं। इस टीम ने स्थल अध्ययन यात्रा की। यात्रा के पश्चात बताया गया कि एससी-एसटी बच्चों के लिए बने राजकीय आवासीय विद्यालय में अनियमितताएं पाई गई है। इस दौरान पूर्व सीएम ने बिहार में शराबबंदी कानून पर सवाल उठाए।

बता दें कि इससे पहले भी पूर्व सीएम जीतन राम मांझी बिहार की शराबबंदी कानून पर प्रश्न चिन्ह खड़ा कर चुके हैं और इसस कानून को खत्म करने की मांग कर चुके हैं। उन्होंने कुछ महीने पहले शराबबंदी को लेकर कहा था कि इस कानून से एसएसी-एसटी के लोग ज्यादा तौड़ पर प्रताड़ित किया जाता है। साथ उन्होंने इसको लेकर पुलिस प्रशासना की कार्यशाली पर भी सवाल उठा चुके हैं।


Find Us on Facebook

Trending News