अपनी बेटी की जीत दिलाने में जुटी पूर्व सीएम राबड़ी देवी, लगातार तीसरे दिन कर रहीं हैं डोर-टू-डोर कैंपेन

अपनी बेटी की जीत दिलाने में जुटी पूर्व सीएम राबड़ी देवी, लगातार तीसरे दिन कर रहीं हैं डोर-टू-डोर कैंपेन

PATNA : लालू परिवार के लिए बिहार की चालीसो सीट में सबसे अहम सीट पाटलिपुत्र है।बाकी की 39 सीटों पर लालू प्रसाद के रिश्तेदार,सहयोगी या फिर घटक दल के नेता चुनाव लड़ रहे हैं।लेकिन पाटलिपुत्र से तो खुद उनकी बड़ी बेटी मीसा भारती चुनाव लड़ रही हैं।इसलिए लालू परिवार के लिए वह सीट प्रतिष्ठा की सीट हो गयी है।लिहाजा लालू प्रसाद की पत्नी और बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी अपनी बेटी मीसा के लिए खुब पसीना बहा रही हैं।वे तीन दिनों से पाटलिपुत्र के इलाकों में लगातार जनसंपर्क में जुटी हैं।

आज खगौल एवं दानापुर में चला रही जनसंपर्क

शनिवार को भी पूर्व सीएम राबड़ी देवी नें शिवाला इलाके में जनसंपर्क चलाया था। आज एक बार फिर से पूरे दिन खगौल एवं दानापुर के मतदाताओं के बीच जनसंपर्क चला रही हैं। राबड़ी देवी इस चिलचिलाती धूप में भी पूरे दिन इन इलाकों में घूम-घूम कर अपनी बेटी मीसा को जीताने की अपील कर रहीं हैं।

मीसा-रामकृपाल आमने-सामने

दरअसल मीसा भारती लगातार दूसरी बार पाटलिपुत्र लोकसभा क्षेत्र से चुनावी मैदान में हैं।2014 के लोकसभा चुनाव में लालू प्रसाद की बेटी मीसा चुनाव हार गयी थीं।तब लालू प्रसाद के खासमखास रहे रामकृपाल यादव नें बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़कर मीसा भारती को पटखनी दे दी थी।इस बार भी मीसा भारती राजद के टिकट पर चुनाव लड़ रही हैं,वहीं बीजेपी के टिकट पर एक बार फिर से रामकृपाल यादव मैदान में है।लिहाजा राबड़ी देवी इस बार हर हाल में रामकृपाल को हरवा कर अपनी बेटी बेटी की जीत के लिए मेहनत कर रहीं हैं।

विवेकानंद की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News