जातीय जनगणना को लेकर बोले पूर्व सीएम जीतनराम मांझी, हमें अभी भी प्रधानमन्त्री से उम्मीद है

जातीय जनगणना को लेकर बोले पूर्व सीएम जीतनराम मांझी, हमें अभी भी प्रधानमन्त्री से उम्मीद है

PATNA : जातीय जनगणना को लेकर बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा की देश की जनता को उनका हक दिलाने के लिए जाति जनगणना बेहद जरूरी है. उन्होंने कहा की जिसकी जितनी आबादी,उतनी उसकी भागीदारी जरुरी है. जीतनराम मांझी ने कहा की हमें अभी भी उम्मीद है की प्रधानमंत्री से इस पर सोचेंगे. 

उन्होंने इस मुद्दे को लेकर फिर से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से सर्वदलीय बैठक करने की मांग की है. सर्वदलीय बैठक के माध्यम से प्रधानमंत्री से इस विषय पर बात करना बेहद जरूरी है. जातीय जनगणना कराना क्यों जरूरी है यह प्रधानमंत्री को बारीकी से बताना होगा. वहीँ नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा की इस विषय पर अगुवाई करने को लेकर वे राजनीति ना करें. मुख्यमंत्री ने इस विषय को सबसे पहले उठाया है वहीं इसकी अगुवाई करेंगे. तेजस्वी अगर अगुवाई करने की बात कर रहे हैं तो यह राजनीति हो जाएगी. 

उन्होंने कहा की मुख्यमंत्री ने ही इस विषय को उठाया है और नेतृत्व किया है. दूसरा के नेतृत्व करने का कोई सवाल नहीं उठता. वहीँ जीतनराम मांझी ने कहा की बीजेपी के बयानों पर मैं ज्यादा कुछ नहीं बोलना चाहता हूं. बीजेपी का बयान देने का बहुत कारण है. मुझे पता है वह किस पर बोलते हैं. बहुत कुछ बातें हैं उस पर मैं अभी कुछ नहीं बोलूंगा. 

पटना से निखिल की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News