विपक्ष के महागठबंधन में घमासान के दावे को पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने किया खारिज, कहा ऑल इज वेल

विपक्ष के महागठबंधन में घमासान के दावे को पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने किया खारिज, कहा ऑल इज वेल

BEGUSARAI : बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी अपने एक दिवसीय दौरे पर आज बेगूसराय पहुंचे। जहां उन्होंने सर्किट हाउस में एक प्रेस वार्ता की। प्रेस वार्ता के दौरान पूछे जाने पर पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने कहा की विपक्षियों के द्वारा अनाप-शनाप बातें की जाती हैं। लेकिन महागठबंधन में कोई मनमुटाव नहीं है और बिल्कुल सब कुछ ठीक-ठाक चल रहा है। वहीँ पार्टी प्रवक्ता दानिश रिजवान की गिरफ़्तारी को लेकर जीतनराम मांझी ने कहा की कानून अपना काम करेगा। हालाँकि उन्होंने कहा की दानिश हमेशा स्पष्ट बोलते हैं और स्पष्ट बोलने के साथ ऐसा होता रहता है। जीतनराम मांझी ने कहा की जिस बच्ची ने उनपर आरोप लगाया है। वह 50 से अधिक अधिकारियों और लोगों पर आरोप लगा चुकी है। अनुसूचित जाति की होने की वजह से उसे पैसे भी मिल जाते हैं। लेकिन इस मामले में पुलिस जांच कर रही है। 

वहीँ पूर्व मंत्री सुधाकर सिंह के बयान की निंदा करते हुए उन्होंने कहा कि पार्टी में रहकर उनके द्वारा बिहार के मुख्यमंत्री पर कटाक्ष करना बिल्कुल गलत है। इसके लिए तेजस्वी यादव को अविलम्ब उन पर अनुशासनात्मक कार्रवाई करनी चाहिए और उन्हें दल से बाहर करना चाहिए। लेकिन अगर तेजस्वी के द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की जाती है या कार्रवाई में विलंब होती है तो कहीं ना कहीं एक सवाल जरूर उठता है कि आखिर सुधाकर सिंह पर पार्टी की ओर से कार्रवाई क्यों नहीं की जा रही है। 

उन्होंने सीएम के समाधान यात्रा के बाद देश यात्रा के संबंध में पूछे जाने पर कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एक विकासशील पुरुष हैं। लोगों को विश्वास है कि नीतीश कुमार पीएम मटेरियल बन सकते हैं। हालांकि उन्होंने अभी तक इस संबंध में कुछ नहीं कहा है और सीधे-सीधे शब्दों में नीतीश कुमार ने कहा है कि वह पीएम मैटेरियल नहीं है। 

वहीं राहुल गांधी की यात्रा एवं समाधान यात्रा के संबंध में बातें करते हुए जीतन राम मांझी ने कहा कि यात्राएं होनी चाहिए। यात्रा करना सबके अधिकार की बात है और फिलहाल मुख्यमंत्री के द्वारा समाधान यात्रा के माध्यम से उनके द्वारा किए गए कार्यों की समीक्षा की जा रही है। जहां जो कमियां नजर आ रही है उसमें सुधार के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। भाजपा पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के द्वारा बेरोजगारी दूर करने एवं महंगाई खत्म करने की बात कही गई थी। लेकिन केंद्र सरकार अपने किसी मुद्दों एवं वादों पर खरी नहीं उतरी है। अतः अब लोग चाह रहे हैं कि केंद्र में सरकार का परिवर्तन हो। 

बेगूसराय से अजय शास्त्री की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News