सुशील मोदी से उलझे पूर्व CM मांझी! हम मांझी हैं...मैदान छोड़कर भागने वाले नहीं, दिलवा ही दीजिये 10 दिनों के लिए कश्मीर की कमान

सुशील मोदी से उलझे पूर्व CM मांझी! हम मांझी हैं...मैदान छोड़कर भागने वाले नहीं, दिलवा ही दीजिये 10 दिनों के लिए कश्मीर की कमान

पटना. जम्मू-कश्मीर में आतंकियों द्वारा की गई बिहारियों की हत्या पर बिहार के पूर्व सीएम और पूर्व डिप्टी सीएम में बहस छिड़ गयी है. कश्मीर में बिहारियों की हत्या पर बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने ट्वीट करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह से अपील की थी कि कश्मीर को सुधारने की जिम्मेवारी हम बिहारियों पर छोड दिजिए. 15 दिनों में ही सुधार देंगे.

इस पर बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और भाजपा सांसद सुशील मोदी ने एक निजी चैनल को कहा था कि मांझी जी को 10 दिनों के लिए पुलवामा भेज दीजिए, 10 दिन रहकर आ जाएं. इस पर अब फिर पूर्व सीएम मांझी ने ट्विटर के जरिये सुशील मोदी से 10 दिन के लिए कश्मीर की कमान दिलवाने की अपील की है.

कश्मीर को 15 दिनों में सुधार देंगे- मांझी

बिहार के पूर्व सीएम और हम पार्टी के संस्थापक जीतन राम मांझी ने कश्मीर में बिहारियों की हत्या को कायरता पूर्ण बताया था. साथ ही उन्होंने ट्विटर के जरिये कश्मीर को 15 दिनों में सुधारने की बात कही थी. मांझी ने ट्विट करते हुए कहा था कि, 'कश्मीर में लगातार हमारे निहत्थे बिहारी भाईयों की हत्या की जा रहीं है जिससे मन व्यथित है. अगर हालात में बदलाव नहीं हो पा रहें तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी और अमित शाह जी से आग्रह है, कश्मीर को सुधारने की जिम्मेवारी हम बिहारियों पर छोड़ दिजिए 15 दिन में सुधार नहीं दिया तो कहिएगा.'




मांझी को 10 दिनों के लिए पुलवामा भेजना चाहिए 

जीतन राम मांझी के इस बयान पर बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने तंज कसा था. उन्होंने एक निजी समाचार चैनल से बात करते हुए कहा था कि, 'मांझी जी को 10 दिनों के लिए पुलवामा भेज दीजिए, 10 दिन रहकर आ जाएं. इस मुद्दे पर ऐसी हल्की बयानबाजी नहीं करनी चाहिए. ये मुद्दा संवेदनशील है, कश्मीर को संभालना आसान काम नहीं है. पूरी सरकार वहां के हालात को बेहतर करने में जुटी हैं.'

10 दिन दिलवा ही दीजिए मोदी जी

वहीं सुशील मोदी के बयान पर एक बार फिर बिहार के पूर्व सीएम ने ट्विटर पर कश्मीर में 10 दिनों के लिए कमान देने की बात कही है. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा किा, 'जी हम “मांझी” है, मैदान छोड़ककर भागने वाले नहीं, हर मुश्किल से लड़ने वालें हैं. वैसे आप तो केन्द्र के बडे़ नेता हैं, आग्रह है 10 दिन के लिए कश्मीर की कमान दिलवा ही दिजिए, एक बिहारी क्या कर सकता है पता लग जाएगा. कारगिल युद्ध में बिहार रेजिमेंट ने क्या किया मत भूलिए...





Find Us on Facebook

Trending News