जातीय जनगणना को लेकर बोले पूर्व डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी, केंद्र के लिए असम्भव, राज्य सरकार चाहे तो करा सकती है

जातीय जनगणना को लेकर बोले पूर्व डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी, केंद्र के लिए असम्भव, राज्य सरकार चाहे तो करा सकती है

PATNA :  बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी आज पटना सिटी का दौरा कर मालसलामी क्षेत्र के नगला इलाके में पहुँचे। जहां उन्होंने देश के प्रधानमंत्री के 71 वे जन्मदिन के पखवाड़ा पर मालसलामी व्यापार प्रकोष्ट की ओर से केक काट कर जन्म दिन की बधाई दी। साथ ही हजारो लोगो के बीच 5 किलो के अनाज का थैला वितरण किया गया। 

इस मौके पर सुशील मोदी ने बताया कि प्रधानमंत्री गरीव कल्याण योजना के तहत बिहार के आठ करोड़ 71 लाख व्यक्ति को सात माह तक 5 किलो अनाज देने का लक्ष्य रखा है। इस योजना के तहत बिहार के सभी जिला और प्रखंड स्तर पर अनाज का वितरण किया जा रही है। वही जातीय जनगणना पर उनका कहना था कि केंद्र सरकार के द्वारा जातीय जनगणना कराना असंभव है। 

उन्होंने कहा की राज्य की सरकार अगर जातीय जनगणना कराना चाहती है तो करा सकती है। इसके लिए सभी राज्य की सरकार स्वतंत्र है। वही केंद्र सरकार द्वारा सुप्रीम कोर्ट में जातीय जनगणना कराने में असमर्थता जताते हुए जो हलफनामा दिया। सुप्रीम कोर्ट का फैसला में अगर केंद्र सरकार के द्वारा कराए जाने की बात आएगी तो केन्द्र सरकार को किसी तरह से जातीय जनगणना कराना पड़ेगा।

पटनासिटी से रजनीश की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News