पूर्व आईएएस केपी रमैया ने पटना के विजिलेंस कोर्ट में किया सरेंडर, SC/ST छात्रवृत्ति घोटाला से जुड़ा है मामला

पूर्व आईएएस केपी रमैया ने पटना के विजिलेंस कोर्ट में किया सरेंडर, SC/ST छात्रवृत्ति घोटाला से जुड़ा है मामला

PATNA : पूर्व आईएएस अधिकारी केपी रमैया ने आज पटना के विजिलेंस कोर्ट में सरेंडर किया है। रमैया ने SC-ST छात्रवृत्ति घोटाला केस मामले में यह सरेंडर किया है। यह मामला 23 अक्टूबर 2017 को सामने आया था। मिली जानकारी के अनुसार रमैया के सरेंडर के बाद कोर्ट ने मामले की सुनवाई करने के बाद नियमित जमानत के फैसले को सुरक्षित रख लिया है।

बता दें इस मामले को लेकर पिछले महीने 27 अप्रैल को विजिलेंस के विशेष न्यायाधीश मधुकर कुमार की अदालत में एक वर्तमान और दो पूर्व आइएएस समेत आठ के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया गया था। जिनके खिलाफ आरोप पत्र दायर किया गया था उनमें वर्तमान आइएएस अधिकारी एसएम राजू, सेवानिवृत्त आइएएस अधिकारी केपी रमैया और रामाशीष पासवान, तत्कालीन बिहार प्रशासनिक सेवा के अधिकारी प्रभात कुमार, तत्कालीन राज्य परियोजना पदाधिकारी देव रानी कर और उमेश मालवीय, देव रानी के पति जयदीपकर और श्रीराम न्यू होराइजीन नामक प्राइवेट कंपनी के तत्कालीन वाइस प्रेसीडेंट सौरभ बसु शामिल हैं।

आरोपित राजू, रमैया और पासवान विकास महादलित मिशन में निदेशक रह चुके हैं। देवरानी उमेश मिशन में राज्य परियोजना पदाधिकारी रह चुकी हैं। जयदीप आइआइआइएम कंपनी में घटना के वक्त स्ट्रेटेजी प्रोजेक्ट पदाधिकारी थे। इसके पूर्व विजिलेंस ने 28 अगस्त, 2018 को आइआइआइएम कंपनी के तत्कालीन निदेशक शरद कुमार झा के खिलाफ इसी मामले में आरोप पत्र दायर किया था। निगरानी के विशेष कनीय लोक अभियोजक आनंदी सिंह के अनुसार विजिलेंस ने इस मामले में वर्तमान आइएएस अधिकारी रवि मनु भाई परमार सहित अन्य के खिलाफ अनुसंधान जारी रखा है।

कुंदन की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News