असदुद्दीन ओवैसी के बयान पर पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने जताई नाराजगी, कहा तालिबान की तुलना महात्मा गांधी से करना उचित नहीं

असदुद्दीन ओवैसी के बयान पर पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने जताई नाराजगी, कहा तालिबान की तुलना महात्मा गांधी से करना उचित नहीं

DARBHNGA : एआईएमएमएम के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को तालिबान को आतंकवादी घोषित करने की चुनौती देने बयान पर पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता हुकुमदेव नारायण यादव ने कड़ी आपत्ति जताई और पलटवार करते हुए जमकर हमला बोला.

दरभंगा में एक कार्यक्रम के दौरान मीडिया से बात करते हुए हुकुमदेव नारायण यादव ने कहा कि ओवैसी उग्र संप्रदायवादी, उग्र इस्लामवादी और देश का विभाजन कारी व्यक्ति खुद है। उन्होंने कहा की आज भी देश में जिन्नावादी और गांधीवादी दोनों जिंदा है। उन्होंने कहा कि अतीत में जिन्नावादी पर गांधीवादी की जीत हुई थी और आज भी गांधीवाद की ही जीत होती है। उन्होंने सवाल किया कि क्या असदुद्दीन ओवैसी भारत का राष्ट्रपति है, जिसके आदेश पर नरेंद्र मोदी तालिबान को आतंकवादी घोषित करेंगे। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी देश को सही दिशा में लेकर जा रहे हैं।

देश के एक समुदाय विशेष के कुछ नेताओं द्वारा अफगानिस्तान में तालिबान की लड़ाई को भारत की आजादी की लड़ाई की तरह स्वतंत्रता संग्राम कहे जाने पर हुकुमदेव नारायण यादव ने कड़ी आपत्ति जताई। उन्होंने कहा कि जो लोग भी भारत की आजादी की लड़ाई और महात्मा गांधी के अहिंसक स्वतंत्रता संग्राम की तुलना तालिबान से करते हैं वे गांधी का अपमान करते हैं। उन्होंने कहा कि गांधी का स्वतंत्रता संग्राम अहिंसक था और विदेशी सत्ता से भारत को आजाद कराने के लिए था जबकि तालिबान हिंसक हैं और अपने ही देश की सत्ता को पलट कर उस पर कब्जा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जो लोग भी महात्मा गांधी से तालिबान की तुलना कर रहे हैं वे ऐसा न करें यही उनकी अपील है।

दरभंगा से वरुण ठाकुर की रिपोर्ट


Find Us on Facebook

Trending News