चार साल पहले हुई थी परिजन की हत्या, अब न्याय के लिए दर-दर की ठोकरें खा रहा है परिवार

चार साल पहले हुई थी परिजन की हत्या, अब न्याय के लिए दर-दर की ठोकरें खा रहा है परिवार

SAMASTIPUR : समस्तीपुर जिला के रोसड़ा अनुमंडल के सिंघिया थाना क्षेत्र बेहट गांव में हुए हत्याकांड में पुलिस अभी सोई है. इस हत्याकांड के चार साल पूरे हो चुके हैं. इसके बावजूद अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं की गयी है. इस मामले को लेकर कोर्ट की ओर से वारंट जारी किया गया है. 

लेकिन आरोपी पुलिस की पकड़ से दूर हैं. उधर पीड़ित परिवार आस लगाकर बैठा है की श्रीराम के हत्यारों की कब गिरफ्तारी होगी. फिलहाल वे बाहर घूम रहे हैं जिससे पीड़ित परिवार दहशत में है.  

बताते चले ली वर्ष 2015 में सिंधिया थाना क्षेत्र के बेहट गांव निवासी कमलेश राय के पुत्र श्रीराम राय उर्फ भूल्ला को गांव के ही कुछ लोगों ने मिलकर हत्या कर दिया था. इस मामले को लेकर सिंघिया थाना में कांड संख्या 58 /15 दर्ज किया गया है. 

जिसमें गाँव के ही तीन लोगों  सागर यादव, कैलाश यादव और संतोष यादव को आरोपी बनाया गया है. इस मामले में व्यवहार न्यायालय रोसड़ा की ओर से संतोष यादव और सागर यादव को धारा 302 के तहत संज्ञान लेते हुए गिरफ्तार करने के आदेश दिया गया है. जबकि कैलाश यादव की जांच अभी चल रही है. लेकिन मानवाधिकार का रिपोर्ट और कोर्ट का आदेश आने के बाद भी सिंघिया थाना अपना ड्यूटी निभाने से कतरा रहा हैं. जिससे आरोपी बाहर घूम रहे हैं. 

खबर की पुष्टि करने के लिए जब इस संवाददाता ने सिंघिया थाना अध्यक्ष पंकज कुमार से बात की तो उन्होंने बताया की तो थाना अध्यक्ष ने बताया कि वारंट निकला हुआ है. लेकिन गिरफ्तारी नहीं हो सकी है. 

समस्तीपुर से प्रवेश कुमार सोनू की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News