JDU सांसद से फ्रॉड की कोशिश, स्पीकर ओम बिड़ला के नाम पर हजारों रुपये मांग रहा था ये वाट्सएप नंबर, पढ़े पूरा वाकया

JDU सांसद से फ्रॉड की कोशिश, स्पीकर ओम बिड़ला के नाम पर हजारों रुपये मांग रहा था ये वाट्सएप नंबर, पढ़े पूरा वाकया

NEW DELHI : साइबर ठगों से हर कोई परेशान हैं, जिसमें कई मंत्री और नौकरशाह भी उनके शिकार हो चुके हैं. ताजा मामला  सीतामढ़ी से जदयू सांसद सुनील कुमार पिंटू से जुड़ा है, जिनसे किसी ने व्हाट्स अप पर खुद के लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला बताकर पैसों की डिमांड की। हालांकि सांसद को इस पर शक हुआ और उन्होंने लोकसभा अध्यक्ष कार्यालय से इसको लेकर सूचना दी। जिसके बाद इस पूरे फर्जीवाड़े का सच सामने आया। लोकसभा अध्यक्ष कार्यालय से स्पष्ट बताया गया कि इस तरह का कोई मैसेज नहीं भेजा गया है और न ही पैसे की डिमांड की गई है। 

सीतामढ़ी सांसद ने इस पूरे मामले की जानकारी न्यूज4नेशन के साथ साझा की है। जिसमें व्हाट्स अप चैट की पूरी जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि कैसे गूगल पे जरिए 5000-5000 के बीस वाउचर की मांग की गई।  यह है चेट की पूरी वार्तालाप

सांसद सुनील कुमार पिंटू ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला का मैसेज समझकर उनको रिप्लाई दिया...

वाट्सएप- हेलो पिंटू, आप कैसे हैं? आप इस समय कहाँ हैं

सांसद पिंटू- कौन?

वाट्सएप- मैं माननीय लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला बोल रहा हूं

सांसद पिंटू- नमस्कार, मैं अभी पटना में हूं

वाट्सएप- बहुत अच्छा, मैं कहीं बहुत ही जरुरी मीटिंग अटैंड कर रहा हूं और इस समय मैं सबको फोन नहीं कर सकता हूं। क्या आप मेरी एक छोटी सी मदद करेंगे?

सांसद पिंटू- बोलिए?

वाट्सएप- क्या आप गुगल पे यूज करते हैं?

सांसद पिंटू- जी

वाट्सएप- मुझे कुछ लोगों को यहां गिफ्ट देना है, लेकिन इस समय मैं जहां हूं वहां न मैं किसी से हेल्प ले सकता हूं और न ही मेरे पास अभी कोई कार्ड है। क्या आप मुझे गिफ्ट देने में मदद करेंगे, मैं आपको सारा पैसा आज रात से पहले लौटा दूंगा।

सांसद पिंटू- ओके

वाट्सएप- धन्यवाद, आप मुझे 5000-5000 का 20 बाउचर गुगल पे किजिए। ताकि मैं इसे आगे आसानी से बढा सकूं।

वाट्सएप- कब तक भेजिएगा?

इन मैसेजों के सुनील कुमार पिंटू कोई मैसेज नहीं भेजते हैं। पिंटू कहते हैं कि इसके बाद मैं चौकन्ना हो गया कि हमारे साथ फर्जीवाड़ा होने वाला है।

उसके बाद सुनील कुमार ने तुरंत इसकी सूचना लोकसभा स्पीकर कार्यालय को दी। पता चला कि इसी तरह लोकसभा अध्यक्ष के नाम पर कई सांसदों से फ्रॉड की कोशिश की गई है। 

सुनील कुमार पिंटू का कहना है कि अनजाने में इस तरह का मैसेज देखकर कोई सांसद पैसे दे दे, तो इससे उन लोगों की कमाई का अंदाजा लगाया जा सकता है। सुनील कुमार ने इसे बड़ा साइबर क्राइम बताते हुए पुलिस से कड़ा एक्शन लेने की बात कही है, जिसमें किसी गणमान्य व्यक्ति के नाम का इस्तेमाल ना हो।


Find Us on Facebook

Trending News