मोतिहारी में फर्जीवाड़ा : DEO के 'हस्ताक्षर' से जारी हुआ विद्यालय सहायक व परिचारी का फर्जी नियोजन पत्र, वायरल होने पर मचा हड़कंप

मोतिहारी में फर्जीवाड़ा : DEO के 'हस्ताक्षर' से जारी हुआ विद्यालय सहायक व परिचारी का फर्जी नियोजन पत्र, वायरल होने पर मचा हड़कंप

मोतिहारी. जिला शिक्षा विभाग में फर्जीवाड़ा का मामला सामने आया है। डीईओ कार्यालय के फर्जी पत्र से विद्यालय सहायक व विद्यालय परिचारी नियोजन का पत्र जारी हुआ है। जारी पत्र में सभी नियोजित कार्यालय सहायक व परिचारी को विद्यालय भी आवंटित कर दिया गया है।सभी अभ्यर्थियों को पत्र में दिए गए समय सीमा में ही आवंटित स्कूल में जॉइन करने का निर्देश दिया गया है। नियोजन पत्र पर डीईओ का हस्ताक्षर व कार्यालय का पत्रांक दिनांक भी अंकित है। नियोजन का पत्र वायरल होने के बाद मोतिहारी डीईओ ने नियोजन पत्र को फर्जी बताया है। वहीं सभी एचएम को योगदान नहीं कराने का निर्देश दिया गया है।

मोतिहारी डीईओ के हस्ताक्षर व कार्यालय के पत्रांक दिनांक से जिला के भिन्न-भिन्न विद्यालयों में 16 विद्यालय सहायक व 17 परिचारी का नियोजन पत्र जारी किया गया है। डीईओ कार्यालय के पत्र में नियोजित सभी अभ्यर्थियों को 22 से 25 सितंबर तक आवंटित विद्यालय में योगदान करने का निर्देश दिया गया है। वहीं नियोजित अभ्यर्थियों की सूची के साथ-साथ नियोजन पत्र भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। नियोजन पत्र पर डीईओ कार्यालय का पत्रांक दिनांक व डीईओ का हस्ताक्षर भी है। नियोजन पत्र सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद जिला में हड़कंप मच गया है।

मोतिहारी डीईओ संजय कुमार ने बताया कि विद्यालय सहायक व परिचारी का जिला शिक्षा कार्यालय से निर्गत पत्र फर्जी है। डीईओ का फर्जी हस्ताक्षर भी है। युवकों को ठगने वाला गिरोह का यह कार्य है। युवक किसी के बहकावे में नहीं आए। डीईओ कार्यालय के नाम पर जारी नियोजन पत्र पूर्णतः फर्जी है। डीईओ ने बताया कि फर्जीवाड़ा करने वाले गिरोह को चिन्हित कर त्वरित कड़ी करवाई की जाएगी।


Find Us on Facebook

Trending News