इंडो नेपाल सीमा के वाल्मीकिनगर से बगहा तक शहर के दर्ज़नों छठ घाटों पर उमड़ी भीड़, दिखा गजब का उत्साह

इंडो नेपाल सीमा के वाल्मीकिनगर से बगहा तक शहर के दर्ज़नों छठ घाटों पर उमड़ी भीड़, दिखा गजब का उत्साह

BETIA : प.चम्पारण के नारायणी गण्डक नदी तट पर लाखों छठव्रतियों औऱ श्रद्धालुओं ने लोक आस्था और उपासना के महापर्व छठ को लेकर हर्षोल्लास पूर्ण तरीक़े से अस्ताचलगामी व आज उगते हुये सूर्य की उपासना को अर्घ्य दिया गया । 

इंडो नेपाल सीमा के वाल्मीकिनगर से बगहा तक शहर के दर्ज़नों छठ घाटों पर SDRF की टीमें मोटर बोट के साथ तैनात नजर आई। वहीं चप्पे चप्पे पर ख़ुद RO दीपक कुमार गोताखोरों के साथ सरकारी व निजी नावों से निगरानी में जुटे रहे। खतरनाक घाट पर गहरे पानी के बीच जाने पर प्रतिबंध लगा है वहीं मगरमच्छ निकलने को लेकर ख़ास सतर्कता बरती जा गई। 

 छठव्रती मन्नतें मानें श्रद्धा पूर्वक भगवान भास्कर की आराधना कर रहे हैं तो दूसरी ओर पारंपरिक तरीके से भजन कीर्तन अष्टयाम किया जा रहा है । छठ की छठा में न केवल बिहार बल्कि देशभर व दुनिया के कई हिस्सों में निष्ठा और आस्था के साथ छठ पूजा अर्चना की जा रही है। 

बता दें कि चार दिनों चलने वाले अनुष्कान के तीसरे दिन भारी संख्या में लोग छठ घाटों पर प्रकृति के साथ सीधा संवाद करने पहुंचे और अपनी मुरादों को पूरा करने कुछ लोग साष्टांग दंडवत प्रणाम करते हुए नदी तट स्थित छठ घाटों पर पूजा अर्चना करने पहुंचे।

Find Us on Facebook

Trending News