बाहुबली विधायक अनंत सिंह उर्फ छोटे सरकार के फरार होने की पूरी कहानी

बाहुबली विधायक  अनंत सिंह  उर्फ छोटे सरकार के फरार होने की पूरी कहानी

NEWS4NATION DESK : सत्ता की हनक और वर्दी के खौफ से दूसरों को खौफ में रखने वाले अनंत खुद खौफ में आ गए थे। लोकसभा चुनाव के दौरान अपने ही एक स्वजातीय नेता के दम पर ताल ठोकने वाले अनंत सिंह अपने ही स्वजातीय नेता पर अपने को बेदम करने का आरोप लगाते-लगाते फरार हो गए।

कल शाम तक ताल ठोकते हुए यह कहने वाले अनंत सिंह कि "मैं कोई चोर हूं' अपने आवास में बैठा हूं, पुलिस मुझे ले जाए" का धैर्य टूट गया। पुलिसिया मिजाज को अनंत सिंह ताड़ गए और फिर फरार हो गए। पत्नी की माने तो अनंत सिंह शाम को वकील से मिलने के बहाने घर से निकले थे और फिर वापस नहीं लौटे।

बताया जा रहा है कि पुलिस के अंदर भी विधायक के मुखबिर मौजूद है जो पुलिसिया गतिविधि की पल-पल की खबर दे रहा था। अनन्त के पैतृक आवास से एके-47 और हैंड ग्रेनेड मिलने के बाद बाढ़ थाने में आईपीसी की धारा 414 आर्म्स एक्ट यूपीए की धारा 13 के अलावा विस्फोटक अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर अनंत को शिकंजा में लेने की तैयारी शुरू कर दी गई थी।

 अनंत को पता था कि इस बार अंदर जाने के बाद बाहर निकलना मुश्किल है इसलिए विधायक ने फरार होना ही लाजमी समझा। जब तक पुलिस वारंट के बाद नोटिस देने की खानापूर्ति करती तब तक अनंत  नौ दो ग्यारह हो गए थे।

बताया जा रहा है कि अनंत के आवास से मिले AK-47 का कनेक्शन जबलपुर से है। जबलपुर ऑर्डिनेंस फैक्ट्री को जानकारी दी गयी है ताकि बरामद ak-47 की जांच हो सके।  वहीं दूसरी तरफ अनंत के आवास से मिले हैंड ग्रेनेड की भी जानकारी आर्मी के जवान को दी गई थी साथ ही उसे निष्क्रिय करने के लिए बाढ़ पुलिस ने कोर्ट से भी आदेश ले लिया है। पुलिस का दावा था कि एके-47 अपराधियों और नक्सलियों को सप्लाई की गई थी उसी सप्लायर नेअनंत को भी  एके-47 सप्लाई की थी। हालांकि विधायक को गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस को विधायक तो हाथ नहीं लगे, लेकिन अनंत का पुराना दुर्गा छोटन सिंह गिरफ्तार हो गया।

कुंदन की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News