छपरा में गंगा और घाघरा का कहर, पूरा दियारा इलाका हुआ जलमग्न, जनजीवन अस्त-व्यस्त

छपरा में गंगा और घाघरा का कहर, पूरा दियारा इलाका हुआ जलमग्न, जनजीवन अस्त-व्यस्त

CHAPRA : सारण जिले में गंगा और घाघरा नदी ने अपना कहर बरपाना शुरु कर दिया है। इन दोनो नदियों का पानी छपरा के पूरे दियारा इलाके को अपनी चपेट में ले लिया है। 

जिले के रिविलगंज प्रखंड स्थित जेपी का गांव सिताबदियारा और प्रभुनाथ नगर पंचायत पूरी तरह से जलमग्न हो गया है। सभी स्कूल और सरकारी संस्थानों को बंद कर दिया गया है। इलाके के लोग अपने-अपने घरों को छोड़कर उंचे स्थानों पर शरण लिये हुए है। 

बाढ़ से घिरे लोगों का कहना है कि अभीतक प्रशासन की ओर से कोई राहत कार्य शुरु नहीं किया गया है। जिससे लोगों में आक्रोश व्याप्त है। लोगों का कहना है कि इंधन के अभाव के कारण चुड़ा मिठा, सत्तु आदि खाकर  गुजारा कर रहे हैं। 

स्थानीय लोगों का कहना है कि जेपी के इस गांव सिताबदियारा को बीजेपी सांसद व पूर्व केंद्रीय मंत्री राजीव प्रताप रूढ़ी ने गोद ले रखा है, लेकिन इस विकट परिस्थिति में न तो उन्होंने और नही स्थानीय भाजपा विधायक सीएन गुप्ता ने उनकी सुध ली है।  

इधर गंगा और घाघरा के जलस्तर में लगातार वृद्धि जारी है। जिसकी वजह से अब शहर में बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है। 

Find Us on Facebook

Trending News