गया DM ने आमस राजस्व कर्मचारी को किया निलंबित, कार्य में लापरवाही पर सीओ व तीन राजस्व कर्मचारियों के विरुद्ध कार्रवाई

गया DM ने आमस राजस्व कर्मचारी को किया निलंबित, कार्य में लापरवाही पर सीओ व तीन राजस्व कर्मचारियों के विरुद्ध कार्रवाई

गया. डीएम त्यागराजन ने कार्य में लापरवाही बरतने वाले एक सीओ एवं तीन राजस्व कर्मचारी के विरुद्ध कार्रवाई की है। साथ ही राजस्व कर्मचारी आमस को निलंबित कर दिया है। टिकारी अंचलाधिकारी आनंद प्रकाश राम एवं राजस्व कर्मचारी सुरेंद्र कुमार सिंह तथा राजस्व कर्मचारी हरदेव कुमार द्वारा कार्यों को सही ढंग से नहीं निष्पादन करने के साथ-साथ काफी अधिक संख्या में आवेदनों के लंबित पाने पर कार्रवाई हुई है।

जिला पदाधिकारी डॉ. त्यागराजन एसएम की अध्यक्षता में राजस्व विभाग की आयोजित मासिक बैठक में अंचलाधिकारी एवं कुछ अंचलों में कार्यरत राजस्व कर्मचारी के कार्यों में घोर लापरवाही बरतने का मामला देखा गया। इसके साथ ही हर बुधवार तथा गुरुवार को जिले के वरीय पदाधिकारियों द्वारा सभी अंचल कार्यालयों का भी विस्तारपूर्वक जांच की जाती है। विभिन्न अंचलों में किए जा रहे कार्यों की जांच के दौरान टिकारी अंचलाधिकारी आनंद प्रकाश राम एवं राजस्व कर्मचारी सुरेंद्र कुमार सिंह तथा राजस्व कर्मचारी हरदेव कुमार द्वारा कार्यों को सही ढंग से नहीं निष्पादन करने के साथ-साथ काफी अधिक संख्या में आवेदनों को अपने स्तर पर लंबित पाया गया। वरीय पदाधिकारी द्वारा किये गये जांच के दौरान प्राप्त प्रतिवेदन की समीक्षा के क्रम में आरोप प्रमाणित पाये जाने पर जिला पदाधिकारी द्वारा आरोपों की पुष्टि के उपरांत अंचलाधिकारी टिकारी तथा टिकारी अंचल के दो राजस्व कर्मचारी के विरुद्ध प्रपत्र-क गठित करते हुए विभागीय कार्रवाई किया गया है।

अपर समाहर्ता मनोज कुमार द्वारा किये गये जांच एवं डीएम गया के निर्देश के आलोक में भूमि सुधार उप समाहर्ता शेरघाटी के द्वारा प्राप्त मंतव्य एवं जांच प्रतिवेदन के आधार पर आमस अंचल में कार्यरत राजस्व कर्मचारी मोहम्मद अली खान द्वारा अवैध जमाबंदी कायम करने एवं अपने पद का दुरूपयोग कर राजस्व कर्मचारी द्वारा बरती गई अनियमितता के आलोक में बिहार सरकारी सेवक (वर्गीकरण, नियंत्रण एवं अपील) नियमावली 2005 के भाग IV के नियम 9-(1) (क) के आलोक में मो. अली खां, राजस्व कर्मचारी, अंचल कार्यालय, आमस को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया है।  इसके साथ ही अंचल अधिकारी, आमस को निदेश दिया है कि मो. खां, राजस्व कर्मचारी, अंचल कार्यालय, आमस के विरुद्ध साक्ष्य सहित आरोप पत्र प्रपत्र 'क' का गठन कर तीन दिनों के अंदर उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंगे, ताकि मो. खां के विरूद्ध विभागीय कार्यवाही प्रारम्भ की जा सके।

जिला पदाधिकारी ने बताया कि जिले के और भी अंचलों का जांच करवाई जा रही है। अगले 5 स 6 दिनों में और भी दोषी कर्मियों को चिन्हित करते हुए कार्रवाई की जाएगी। डीएम ने सभी अंचलाधिकारी एवं सभी राजस्व कर्मचारियों को सख्त चेतावनी दी कि अपने अंचलों में जमीन सम्बंधित विभिन्न प्रकार के लंबित आवेदनों को जांच करते हुए त्वरित गति से निष्पादन करें।

Find Us on Facebook

Trending News