गया रेलवे स्टेशन के निजीकरण के विरोध में इंटक ने किया विरोध प्रदर्शन, उग्र आंदोलन किये जाने का किया एलान

गया रेलवे स्टेशन के निजीकरण के विरोध में इंटक ने किया विरोध प्रदर्शन, उग्र आंदोलन किये जाने का किया एलान

Gaya :  कांग्रेस पार्टी एवम् इंटक के संयुक्त तत्वावधान में आज " गया रेलवे स्टेशन " की यात्री सुविधा एवम् जमीन का निजीकरण के भारी विरोध करते हुए निजीकरण नहीं करने की मांग प्रधानमंत्री एवम् रेल मंत्री से किया गया।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के सदस्य सह मगध प्रमंडल कांग्रेस प्रवक्ता प्रो विजय कुमार मिठू, इंटक के प्रदेश सचिव अशोक सिंह, रेलवे स्टाफ यूनियन इंटक के सुरेश प्रसाद, बाबूलाल प्रसाद सिंह, अमरजीत कुमार, रामेश्वर सिंह यादव अध्यक्ष पूर्व मध्य रेल मजदूर कांग्रेस गया, प्रकाश धवन, शिव कुमार चौरसिया, अरुण कुमार पासवान, सरवर खान आदि ने गया रेलवे स्टेशन प्रांगण में सोशल डिस्टेंस मेनटेन करते हुए विरोध प्रदर्शन किया ।

इस मौके पर नेताओ ने कहा कि बिहार के गया, राजेंद्रनगर टर्मिनल, मुजफ्फरपुर, बेगूसराय रेलवे स्टेशन को निजी हाथों में सौंपने के निर्णय से लोगो में भारी आक्रोश है। खास कर गया रेलवे स्टेशन पूर्व मध्य रेल के महत्वपूर्ण स्टेशनों में एक है, जहां सैकड़ों एकड़ भूमि है। निजीकरण से भारी संख्या में लोग बेरोजगार होगें तथा नई बहाली नहीं निकलने से युवाओं को रोजगार नहीं मिलेगा।

नेताओं ने कहा कि भारतीय रेल देश की जनमानस का लाइफ लाइन कहा जाता हैं, जिसका मोदी सरकार के पहले की सरकार अलग से बजट भी बनाती थी, जिसे अब आम बजट के साथ जोड़ कर इसके विकास एवम् विस्तार को रोकने का काम किया गया है।

नेताओ ने कहा की आगे गया सहित अन्य रेलवे स्टेशनों को निजीकरण से रोकवाने हेतु हस्ताक्षर अभियान, पोस्टकार्ड लेखन, पुतला दहन, धरना प्रदर्शन के बाद पूर्व मध्य रेलवे के जी एम् कार्यालय हाजीपुर, डी आर एम कार्यालय मुगलसराय, एवम् दिल्ली स्थित रेल मंत्रालय मुख्यालय पर धरना प्रदर्शन किया जाएगा।

गया से मनोज कुमार सिंह की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News