अब घर बैठे दर्ज कराएं FIR, नहीं लगाने पड़ेंगे पुलिस स्टेशन के चक्‍कर, बिहार सरकार का बड़ा ऐलान

अब घर बैठे दर्ज कराएं FIR, नहीं लगाने पड़ेंगे पुलिस स्टेशन के चक्‍कर, बिहार सरकार का बड़ा ऐलान

PATNA: अब बिहार में अपराधियों की खैर नहीं. अब बिहार पुलिस कम्प्यूटर की एक क्लिक से किसी भी अपराधी के चेहरे, उसके क्राइम रिकार्ड को खंगाल सकती है. ये बात बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने अधिवेशन भवन में आयोजित तीसरा नेशनल फॉरेंसिक कॉन्फ्रेंस के दौरान कही.

क्राइम एंड क्रिमिनल ट्रैकिंग नेटवर्क सिस्टम की शुरूआत

बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने अधिवेशन भवन में आयोजित नेशनल फॉरेंसिक कॉन्फ्रेंस में शिरकत की. अपने भाषण के दौरान उन्होंने कहा कि अब अपराध के अनुसंधान का तरीका बदल गया है. बिहार सरकार ने 270 करोड़ की लागत से क्राइम एंड क्रिमिनल ट्रैकिंग नेटवर्क सिस्टम की शुरूआत की है जिसके तहत अब तक 6 लाख 12 हजार FIR दर्ज की गई है. 

जिसके पास डाटा है वही दुनिया पर राज करेगा

कार्यक्रम के दौरान डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने कहा कि साइबर अपराध दुनिया के लिए बड़ी चुनौती है. साइबर क्राइम का मुकाबला अब आधुनिक तकनीक से ही संभव है. आज के दौर में डाटा की सुरक्षा भी बड़ी चुनौती है. आज जिसके पास डाटा है वही दुनिया पर राज करेगा. दुनिया के अनेक देशों में साइबर हैकर किडनैपिंग फॉर रेनसम की तर्ज पर डाटा हैक कर फिरौती की मांग करते है. 


Find Us on Facebook

Trending News