कश्मीर में धारा 370 की वापसी पर गुलाम नबी आजाद ने बता दी सच्चाई, कई पार्टियों को लग जाएगी मिर्ची

कश्मीर में धारा 370 की वापसी पर  गुलाम नबी आजाद ने बता दी सच्चाई, कई पार्टियों को लग जाएगी मिर्ची

DESK : कभी कांग्रेस ने कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने का विरोध किया था और सत्ता में वापसी के बाद फिर से उसे बहाल करने के वादे करती हो। लेकिन, कुछ दिन पहले ही कांग्रेस से आजाद हुआ गुलाम नबी आजाद धारा 370 की वापसी की उम्मीद लगाकर बैठे लोगों को सच का सामना कराना शुरू कर दिया है। तीन दिन पहले अपनी नई पार्टी बनाने का ऐलान कर चुके गुलाम नबी आजाद ने यह साफ कर दिया है कि उनके राजनीतिक एजेंडे में यह वादा नहीं है कि वह अनुच्छेद-370 की बहाली करा देंगे।

असंभव है 370 की वापसी

रविवार को  अपनी पार्टी बनाने के ऐलान के बाद बारामूला में पहली सभा करने के दौरान  पूर्व कांग्रेस नेता ने स्पष्ट कह दिया कि अब जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 बहाल होने के सपने ना देखें। उन्होंने कहा कि मैं कश्मीरियों को झूठे सपने नहीं दिखाना चाहता क्योंकि इसके लिए संसद में दो तिहाई बहुमत की जरूरत होगी।

उन्होंने कहा, आजाद को पता है कि क्या किया जा सकता है और क्या नहीं किया जा सकता है। मैं या कांग्रेस पार्टी या फिर अन्य तीन क्षेत्रीय दल आपको आर्टिकल 370 वापस नहीं दिला सकते। ना तो टीएमसी चीफ ममता बनर्जी, ना ही डीएमके और ना ही शरद पवार। कोई आर्टिकल 370 फिर से नहीं लागू करवा सकता और जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा नहीं दिलवा सकता। 

मूर्ख नहीं बना सकते हैं

उन्होंने कहा, ऐसी बातों को लेकर हमें नारेबाजी करने की जरूरत नहीं है जो कि हम कर नहीं सकते। आजाद ने कहा, कुछ लोग कहते हैं कि मैं आर्टिकल 370 की बात क्यों नहीं करता। मैं उनका बताना चाहता हूं कि चुनावी फायदे के लिए आजाद किसी को मूर्ख नहीं बनाता है।

गौरतलब है कि कांग्रेस सहित पीडीपी, नेशनल कांफ्रेंस कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने का लगातार विरोध करते रहे हैं। इसको लेकर तीनों पार्टियां कई बार अपनी सभाओं और बैठक में इसे फिर से बहाल करने की बात करते रहे हैं।


Find Us on Facebook

Trending News