आधी आबादी को तोहफा: सार्वजनिक परिवहन में महिलाएं कर सकेंगी मुफ्त यात्रा

आधी आबादी को तोहफा: सार्वजनिक परिवहन में महिलाएं कर सकेंगी मुफ्त यात्रा

NEW DELHI: लोकसभा चुनाव में अरविन्द केजरीवाल की आम आदमी पार्टी ने नौ राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों के 40 से अधिक सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किये थे. लेकिन लोकसभा चुनाव में पार्टी को केवल एक सीट पर जीत हासिल हुई थी. 2020 के शुरू में ही दिल्ली में विधानसभा के चुनाव कराये जायेंगे. ऐसे में आम आदमी पार्टी ने अपनी तैयारियां अभी से शुरू कर दी है. इसे लेकर पार्टी ने सोमवार को बड़ा फैसला किया है. इस फैसले से पार्टी में दिल्ली की आधी आबादी को अपने पक्ष में करने का प्रयास किया है. 

आज एक संवाददाता सम्मेलन का आयोजन कर अरविन्द केजरीवाल ने मेट्रो और डीटीसी की बसों में महिलाओं को मुफ्त यात्रा की सुविधा देने की घोषणा की. उन्होंने कहा की इससे सार्वजानिक परिवहन को बढ़ावा मिलेगा. बसों और मेट्रो में यात्रा करनेवाले यात्रियों में करीब 33 फीसदी महिलाएं होती हैं. इन महिलाओं के मेट्रो में यात्रा करने पर एक वर्ष में 1000 करोड़ रुपये का खर्च आएगा.  जबकि बसों को लेकर यह खर्च 200 करोड़ रुपये तक हो सकता है. इस तरह सरकार को प्रतिवर्ष 1200 करोड़ रुपये खर्च करने होंगे. इस खर्च की भरपाई दिल्ली सरकार करेगी.  

इस योजना को लागू करने के लिए दिल्ली सरकार और दिल्ली मेट्रो रेल कारपोरेशन के बीच बातचीत हुई है. इस बात पर भी चर्चा हुई है की महिलाओं को मुफ्त यात्रा की सुविधा किस तरह दी जाये. इसके लिए पास बनाया जाये या कोई दूसरा विकल्प हो सकता है. 

बताते चले की अरविन्द केजरीवाल ने दिल्ली में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिए ढाई साल से कोशिश कर रहे थे. डेढ़ लाख सीसीटीवी लगने का टेंडर दिया था, 70 हजार सीसीटीवी का सर्वे भी हो चुका है. केजरीवाल ने कहा कि 8 जून से कैमरे लगेंगे और दिसंबर तक लगने की उम्मीद है.


Find Us on Facebook

Trending News