सीए की तैयारी कर रही युवती ने दी जान, कमरे में पंखे से लटकती मिली लाश

सीए की तैयारी कर रही युवती ने दी जान, कमरे में पंखे से लटकती मिली लाश

MUZAFFARPUR :  जिले के काजी मोहम्मदपुर थाना के पंखा टोली में उस समय हड़कंप मच गया जब CA की तैयारी कर रही छात्रा ने आत्महत्या कर ली। उनका शव बंद कमरे में पंखे से लटकता हुआ मिला। उसने दुपट्टे का फंदा बनाया था। फिर इसे गर्दन में बांधकर बेड पर कुर्सी रखकर पंखे से झूल गयी। मृत युवती की पहचान अंजली जायसवाल (23) के रूप में हुई है। उसके पिता अवधेश चौधरी किराना व्यवसाई हैं। सूचना मिलने पर काजीमोहम्मदपुर थाना के सब इंस्पेक्टर शशि कुमार भगत मौके पर पहुंचे । कमरे का दरवाजा भीतर से बंद था। दरवाजा तोड़वाया गया तो  देखा कि युवती का लाश पंखे से झूल रहा है । दुपट्टा को चाकू से काटकर लाश को नीचे उतारा गया। युवती का हाथ और चेहरा काला पड़ चुका था। रूम की बारीकी से तलाशी ली गयी। वहां से दो मोबाइल जब्त किया गया। इसके अलावा कोई सुसाइड नोट नहीं मिला। शव को कब्जे में लेकर पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

पुलिस जांच में पता लगा कि रात को उसने घरवालों के साथ खाना खाया था। इसके बाद वह कमरे में सोने चली गयी थी। फिर देर रात उठकर खुद से चाय भी बनाया और पिया। कमरे से चाय का जूठा कप बरामद हुआ। उसके कान में ब्लूटूथ लगा हुआ था। बेड पर CA की किताब और कॉपी खुली हुई थी। सब इंस्पेक्टर ने आशंका जाहिर करते हुए कहा कि देर रात 1-2 के बीच उसने आत्महत्या किया होगा। इसलिये शरीर काला पड़ने लगा था।


एक मोबाइल का घरवालों को नहीं था पता 

सब इंस्पेक्टर ने बताया कि युवती के पास दो मोबाइल था। इसके पता उसके घरवालों को नहीं था। वे लोग बता रहे थे कि हमलोग एक ही मोबाइल के बारे में जान रहे थे। दोनों मोबाइल में पैटर्न लॉक लगा था। इसलिए पुलिस उसे खोल नहीं पाई। एक मोबाइल पर बार-बार एक ही नम्बर से कॉल भी आ रहा था। हालांकि अफरातफरी के माहौल में पुलिस कॉल रिसीव नहीं कर सकी। उसके मोबाइल का लॉक तोड़वाकर जांच शुरू कर दी गयी है। अंतिम कॉल उसे किसका आया था। ये पता किया जा रहा है। इसी से घटना की गुत्थी सुलझेगी।

कोचिंग में भी होगी दोस्तों से पूछताछ

परिजन ने पुलिस को बताया कि अंजली एक कोचिंग में पढ़ाई करने जाती थी। पुलिस उस कोचिंग में जाकर भी पूछताछ करने की कवायद में जुट गई है। ताकि इस घटना के पीछे का कुछ सुराग मिल सके। अबतक थाना में परिजन की तरफ से आवेदन नहीं दिया गया है। पुलिस अपने स्तर से आगे की जांच में जुट गई है। घटना के पीछे कई तरह की चर्चा हो रही है। लेकिन, परिजन के बयान और मोबाइल कॉल डिटेल्स से ही सबकुछ स्पष्ट होगा ।

Find Us on Facebook

Trending News