हमें न्याय दीजिए मुख्यमंत्री जी...मोतिहारी की महिला ने CM नीतीश से लगाई गुहार, सीएम ने लगाया फोन और कहा....

 हमें न्याय दीजिए मुख्यमंत्री जी...मोतिहारी की महिला ने CM नीतीश से लगाई गुहार, सीएम ने लगाया फोन और कहा....

PATNA: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जनता के दरबार में एक जेडीयू की महिला कार्यकर्ता ने अपनी फरियाद की। पूर्वी चंपारण की एक समाजसेवी ने सीएम नीतीश से कहा कि हमारे पति को फंसा दिया गया है। अपराधियों ने पहले हमारे पति के भतीजे की हत्या की इसके बाद केस वापस लेने के लिए हमारे पति को केस में फंसा दिया। हमें न्याय दीजिए। दूध का दूध और पानी अलग कीजिए। इसके बाद मुख्यमंत्री ने गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव को फोन लगाकर कहा कि इसको देखिए। जार पता करिए कि कौन है जो यह काम कर रहा। यह महिला पूरी बात बता रही है। कह रही कि चंपारण डीआईजी के आदेश का अनुपालन करायें. सीएम नीतीश ने कहा कि तुरंत इसे देखिए। 

एक फरियादी ने सीएम नीतीश से कहा कि 7 जुलाई को हमारे पिता आपसे शिकायत किये थे। शिकायत के बाद कोई कार्रवाई नहीं हुई। जमीन संबंधी विवाद को लेकर शिकायत किये थे। लेकिन वहां के एसडीओ ने पेंडिंग में डाल दिया है। समस्या का समाधान नहीं हुआ है। एक पत्रकार और एक प्रोपर्टी डीलर के दबाव में एसडीओ काम कर रहे। शिकायत सुन सीएम नीतीश भौंचक रह गए। मुख्यमंत्री ने कहा कि आपके पिता कब आए थे. जवाब मिला कि 7 जुलाई को। इसके बाद नीतीश कुमार ने अफसरों से कहा कि जाकर राजस्व वाले को बताइए कि इनके पिता इसी शिकायत को लेकर आये थे, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। 

 सुपौल से आई एक महिला फरियादी ने सीएम नीतीश से कहा कि हमारी जमीन पर कब्जा किया जा रहा है। गांव का एक दबंग हमारी जमीन पर कब्जा कर रहा। हम सीओ से लेकर बीडीओ और थाना में गए लेकिन कहीं से कोई न्याय नहीं मिला। इसके बाद नीतीश कुमार ने अफसर को फोन लगाकर कहा कि इसे देखिए. तुरंत एक्शन लीजिए। सुपौल से आये दूसरे फरियादी ने सरकारी जमीन पर कब्जा करने की शिकायत की। फरियादी ने कहा कि स्कूल की जमीन पर पक्का मकान बनाया जा रहा। अधिकारी कोई कार्रवाई नहीं कर रहे। इस पर सीएम नीतीश ने राजस्व विभाग के अपर मुख्य सचिव को फोन लगाकर कहा कि इस मामले को देखिए। स्कूल की जमीन का कब्जा किया जा रहा है। इस पर एक्शन लीजिए।

Find Us on Facebook

Trending News