बिहार मेडिकल की मेधा सूची में टॉप 20 के ज्यादातर छात्र गोल इन्स्टीट्यूट से

बिहार मेडिकल की मेधा सूची में टॉप 20 के ज्यादातर छात्र गोल इन्स्टीट्यूट से

PATNA : बिहार स्टेट 85% कोटा के अंतर्गत प्रदेश के मेडिकल एवं डेंटल कॉलेजों में होने वाले नामांकन के लिए काउँसेलिंग की प्रक्रिया शुरू हो गई है। रजिस्ट्रेशन के बाद बी.सी.ई.सी.ई. बोर्ड द्वारा छात्रों का रैंकिंग जारी कर दिया गया है जिसके आधर पर काउँसेलिंग की प्रक्रिया चल रही है।

गोल इन्स्टीट्यूट के छात्रों के टॉप 20 में से अधिकतर रैंकों पर कब्जा जमा कर यह सिद्ध कर दिया है कि गोल के छात्रों की बराबरी कोई दूसरा नहीं कर सकता है और गोल इन्स्टीट्यूट बिहार एवं झारखण्ड का नं. 1 इन्स्टीट्यूट है।

गोल इन्स्टीट्यूट के छात्रों में गौतम कुमार को जेनरल रैंक 1, धीरज कुमार को जेनरल में 4, नैन्सी वत्स को RCG में 2, शास्वत आकाश को BC में 5, स्नेहा राज को RCG में 7, कल्पना सिन्हा को RCG में 8, एमडी मोटीन को जेनरल EWS में 10, रवि राज को ST में 12, सुभांगी रंजन को जेनरल EWS में 14 एवं यश प्रकाश को जेनरल EWS में 17 रैंक प्राप्त हुआ है।

गोल के फाउण्डर एवं मैनेजिंग डायरेक्टर  विपिन सिंह ने सभी छात्रों को भविष्य में सपफलता के शिखर तक पहुँचने की शुभकामना दिया और इस सफलता का श्रेय छात्रों की मेहनत एवं उनके अभिभावकों के सहयोग को देते हुए कहा कि हमारी गोल टीम इन छात्रों को इस मुकाम तक पहुँचाने के लिए लगातार कोशिश की है और उसी के परिणामस्वरूप आज गोल के ज्यादातर छात्रों ने सफलता प्राप्त किया है।

गोल इन्स्टीट्यूट के असिस्टेंट डायरेक्टर रंजय सिंह ने बताया कि इस वर्ष बिहार के द्वारा जारी स्टेट नीट रैंकिंग में ज्यादातर छात्र हमारे इन्स्टीट्यूट से हैं, और यह हमारे लिए गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि टॉप 20 छात्रों में ज्यादातर छात्रा हमारे गोल विलेज और चैलेंजर ग्रुप के हैं। इस वर्ष नीट में 6327 से अधिक छात्रों ने नीट में सफलता प्राप्त की है और 612 से अधिक छात्रों को गवर्नमेंट कॉलेज में एम.बी.बी.एस. कोर्स के लिए दाखिला मिलने की संभावना है।

Find Us on Facebook

Trending News