पेपर ग्लास और पेपर थाली उद्योग के लिए आए अच्छे दिन, व्यापारियों को उम्मीद - उद्योग को मिलेगा बढ़ावा

पेपर ग्लास और पेपर थाली उद्योग के लिए आए अच्छे दिन, व्यापारियों को उम्मीद - उद्योग को मिलेगा बढ़ावा

KATIHAR : बिहार में थर्माकोल के पत्ता और ग्लास पर बैन के बाद,पेपर ग्लास और पेपर थाली उद्योग के लिए अच्छे दिन आ गए हैं। व्यापारियों को उम्मीद है कि वर्षों से चलने वाले इस कारोबार में अब अचानक उछाल आने की संभावना है। 

दरअसल, कागज के बने ग्लास कटोरा और थाली पूरी तरह इको फ्रेंडली होता है, इस कारण अब यह तेजी से थर्माकोल के पत्ता- गिलास की जगह लोगों की जीवन शैली का हिस्सा बनते जा रहा है। वैसे पहले से ही कुछ लोग इसके इस्तेमाल करते रहे हैं। थर्मोकोल के पत्ता और ग्लास पर प्रतिबंध लगने के बाद कागज के प्लेट और ग्लास के उद्योग में नई उम्मीद पर फैक्ट्री के मालिक, युवा व्यवसाई एवं सरकार के इस कदम के सराहना करने वाले स्थानीय प्रतिनिधि बहुत खुश दिख रहे है और सरकार से अपील कर रहे है इस तरह के उधोग करने वालो पर थोड़ा ध्यान दिया जाए।

बता दे थर्मोकोल से पर्यावरण को होनेवाले नुकसान को देखते हुए सरकार ने 15 दिसंबर से इसके प्रयोग पर रोक लगाने का आदेश दिया था। 


Find Us on Facebook

Trending News