अब धोनी को इस काम के लिए मिला सम्मान, क्रिकेट से दूर तक नहीं है कोई संबंध

अब धोनी को इस काम के लिए मिला सम्मान, क्रिकेट से दूर तक नहीं है कोई संबंध

रांची। टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और रांची के युवराज महेन्द्र सिंह धोनी क्रिकेट के मैदान में कई सफलताएं अर्जित की हैं और कई सम्मान से नवाजे गए हैं। लेकिन इस बार जो सम्मान धोनी को दिया गया है, उसका क्रिकेट से कोई संबंध नहीं है। धोनी को झारखंड सरकार द्वारा पशुपालन के क्षेत्र में बेहतर कार्य एवं योगदान पर उत्कृष्ट पशुपालक का सम्मान दिया गया है. धौनी को यह सम्मान शनिवार को बिरसा कृषि विश्वविद्यालय में चल रहे एग्रोटेक किसान मेला के दूसरे दिन आयोजित कार्यक्रम में विधानसभा अध्यक्ष रवींद्र नाथ महतो ने प्रदान किया. 

किसान मेला में धौनी की तरफ से उनके द्वारा पाले गये शाहिवाल बाछी व सांढ़ तथा 35 लीटर दूध देनेवाली फ्रिजियन क्रॉस गाय प्रदर्शनी में लाये गये थे. धौनी के प्रतिनिधि ने धौनी की अनुपस्थिति में यह सम्मान ग्रहण किया. इस अवसर पर विवि से सेवानिवृत्त वयोवृद्ध पेंशन भोगी प्राध्यापकों में डॉ अनिरूद्ध प्रसाद, डॉ जयदेव मंडल, डॉ बैकुंठ मिश्रा, डॉ राधा कांत मिश्र व लक्षमण लाल को विशिष्ट सेवा सम्मान दिया गया.

चेन्नई में हैं धोनी

धौनी इस वक्त आईपीएल की तैयारी में व्यस्त हैं. वह अपनी टीम चेन्नई सुपरकिंग्स के साथ प्रैक्टिस में व्यस्त हैं. सम्मान स्वरूप उन्हें स्मृति चिह्न, शॉल व पशुपालन से संबंधित उपकरण पुरस्कार प्रदान किये गये. ऐसे में उनकी अनुपस्थिति में यह सम्मान उनके प्रतिनिधि कुणाल गौरव ने प्राप्त किया. बता दें कि टीम इंडिया को विश्वविजेता बनाने वाले कप्तान महेंद्र सिंह धौनी इन दिनों रिटायरमेंट के बाद अपने फार्म हाउस में ज्यादतर समय बिताते हैं. इस बीच उन्होंने खेती किसानी में अपना समय बिताने का फैसला किया है. खेती के साथ-साथ धौनी रांची में पशुपालन का काम भी कर रहे हैं.

Find Us on Facebook

Trending News