कलाकारों व शिल्पकारों के प्रोत्साहन के लिए सरकार लगातार प्रयासरत : शाहनवाज

कलाकारों व शिल्पकारों के प्रोत्साहन के लिए सरकार लगातार प्रयासरत : शाहनवाज

PATNA : बिहार के शिल्पकारों का उत्पाद, बिहार के बुनकरों और कलाकारों द्वारा बनाई गई चीजें, देश दुनिया में जाएं, हम ये मंशा लेकर चल रहे हैं। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का संकल्प है कि कला, शिल्प और पारंपरिक उद्योग जो कि बिहार की पहचान है, उसका संदेश पूरे देश में जाना चाहिए। बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने ये बातें गुरुवार को बिहार म्यूजियम में आयोजित राज्य पुरस्कार समारोह वितरण समारोह में कही। इस समारोह में बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने राज्य के 40 कलाकारों को सम्मानित और पुरस्कृत किया।

राज्य के बेहतरीन शिल्पकारों, कलाकारों को सम्मानित करने के बाद बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि हम पूरी कोशिश कर रहे हैं कि बिहार के बुनकरों, कलाकारों, शिल्पकारों को देश ही नहीं विदेश में भी बाजार मिले। हम कोशिश में हैं कि यहां की कलाकृति को अमेजन और फ्लिपकार्ट जैसे प्लैटफार्म्स पर उपलब्ध कराई जाए। बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा की हम बिहार में बड़े उद्योगों की चिंता करने के साथ उनके लिए भी फिक्रमंद हैं जो लघु उद्यमों में लगे हैं। उन्होंने कहा कि इस बार कलाकारों को मिलने वाली पुरस्कार राशि भी दोगुनी हो गई है। 25 हजार की पुरस्कार राशि को 50 हजार कर दिया गया है और 11 हजार की पुरस्कार राशि को बढ़ाकर 15 हजार कर दिया गया है। लेकिन उन्होंने कहा कि कलाकारों का असली ईनाम तो ये है कि उनकी कृतियां देश के हर हिस्से में पहुंचे। 

बिहार के उद्योग मंत्री ने बिहार म्यूजियम में आयोजित समारोह में राज्य के 40 कलाकारों को पुरस्कृत किया। इसमें से 20 कलाकार को 50 हजार का चेक और अऩ्य 20 कलाकारों को 25 हजार का चेक देकर पुरस्कृत किया गया। सभागार में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए मंत्री ने ये भी कहा कि उपेन्द्र महारथी शिल्प संस्थान देश के प्रमुख कला संस्थानों में से एक है। उनके विभाग ने शिल्पकारों के लिए 12 करोड़ की राशि निर्गत की है। बिहार के नये म्यूजियम की चर्चा करते हुए उदयोग मंत्री ने कहा कि वे पहली बार यहां आए हैं और इसकी भव्यता एवं सुन्दरता से वे काफी उत्साहित हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सोच को धन्यवाद करते हैं कि उन्होंने बिहार के कलाकारों के लिए इतने भव्य म्यूजियम का निर्माण कराया है। उन्होंने समारोह में जुटे सभी शिल्पकारों, कलाकारों से अपील की कि उनकी कृतियां इतनी महान बनें कि भविष्य में उन्हें इसी म्यूजियम में जगह मिले। उन्होंने कहा कि बिहार के सभी कलाकारों को इसी मंशा से काम करना चाहिए।

उद्योग विभाग के उपेंद्र महारथी शिल्प अनुसंधान संस्थान द्वारा आयोजित राज्य पुरस्तार वितरण समारोह में उद्योग विभाग के अधिकारी, पद्मश्री बौआ देवी, वक्फ बोर्ड के चेयरमैन, वरिष्ठ चित्रकार आनंदी प्रसाद बादल समेत कई अधिकारी, कलाकार और कलाप्रेमी मौजूद थे।

पटना से विवेकानंद की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News