नियोजित शिक्षकों का मानदेय बढ़ाए सरकार, विधान पार्षदों ने सरकार पर बनाया दबाब

नियोजित शिक्षकों का मानदेय बढ़ाए सरकार, विधान पार्षदों ने सरकार पर बनाया दबाब

PATNA : सत्ता पक्ष से लेकर विपक्ष तक के विधान पार्षदों ने बिहार में नियोजित शिक्षकों का मानदेय बढ़ाने के लिए सरकार पर दबाव बनाना शुरू कर दिया है।

बुधवार को विधान परिषद में शून्यकाल के दौरान सत्ता पक्ष के एमएलसी दिलीप कुमार चौधरी ने आसन से आग्रह करते हुए कहा के नियोजित शिक्षकों का मानदेय बढ़ाने पर सरकार विचार करें। इसी तरह वित्तीय वर्ष 2019 20 के आए बेड पर वाद विवाद के दौरान विपक्ष के एमएलसी केदार पांडे ने भी सरकार से नियोजित शिक्षकों के मानदेय बढ़ाने पर विचार करने की बात कही।

वही भाजपा के नवल किशोर यादव जदयू के संजीव श्याम जी भाजपा के दिलीप जाए जायसवाल सहित कई पार्षदों ने कार्यकारी सभापति हारून रशीद से 2020 में होने वाले विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए शिक्षकों के मानदेय बढ़ाने की मांग पर सरकार से विचार करने का आग्रह किया है।

बता दें की नियोजित शिक्षकों के द्वारा लगातार अपना मानदेय बढ़ाने के लिए आंदोलन किया जाता रहा है। हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने शिक्षकों के मानदेय बढ़ाने की जिम्मेदारी पूरी तरह बिहार सरकार के रुख पर छोड़ दिया है।

जबकि बिहार के नियोजित शिक्षकों ने एलान किया है कि जब तक नियोजित शिक्षकों का वेतन मान नियमित शिक्षकों की तरह नहीं कर दिया जाता तब तक हमारा आंदोलन जारी रहेगा।

विवेकानंद की रिपोर्ट


Find Us on Facebook

Trending News