सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की कमी का मामला विधानसभा के उठा, शिक्षा मंत्री ने न्यायालय में केस का दिया हवाला

सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की कमी का मामला विधानसभा के उठा, शिक्षा मंत्री ने न्यायालय में केस का दिया हवाला

PATNA : बिहार के सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की कमी का मामला आज विधानसभा में गूंजा। सदन के प्रश्नोत्तरकाल में आरजेडी विधायक भोला यादव ने सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की कमी का मामला उठाया तो शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा ने शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया में देरी के लिए न्यायालय में केस लंबित रहने का हवाला दिया। 

हालांकि मंत्री कृष्णनंदन वर्मा ने सदन में यह स्वीकार किया कि सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की कमी है। लेकिन मंत्री ने यह कहा कि नियोजित शिक्षकों का मामला सुप्रीम कोर्ट में होने के कारण नियुक्ति प्रक्रिया में देरी हो रही है। मंत्री कृष्णनंदन वर्मा ने कहा कि शिक्षक नियुक्ति प्रक्रिया में देरी को देखते हुए सरकार गेस्ट टीचर्स की बहाली कर रही है। 

सदन में शिक्षकों की कमी के मसले पर काफी देर तक बहस होती रही। आरजेडी विधायक अब्दुल बारी सिद्दकी और ललित यादव ने भी इस मामले पर सरकार से यह जानना चाहा कि आखिर शिक्षा विभाग राज्यभर में कितने शिक्षकों की नियुक्ति का प्रस्ताव रखती है। विपक्षी सदस्यों की तरफ से आये इस पूरक प्रश्न का स्पष्ट जवाब नहीं आने पर विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने शिक्षकों की कमी से जुड़े मूल प्रश्न को स्थगित कर दिया।

Find Us on Facebook