महादलित युवती के साथ रूह कंपा देने वाली घटना की जांच सरकार सीबीआई से कराए : उदय नारायण चौधरी

महादलित युवती के साथ रूह कंपा देने वाली घटना की जांच सरकार सीबीआई से कराए : उदय नारायण चौधरी

GAYA : महागठबंधन के विधायको ने आज गया जिले के चनौती स्थित एक निजी होटल में प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन किया। इस प्रेस कांफ्रेंस में बिहार विधान सभा के पूर्व स्पीकर उदय नारायण चौधरी, गुरूआ विधायक विनय कुमार यादव, मखदुमपुर विधायक सतीश दास एवं मसौढ़ी विधायिका रेखा पासवान, बागी वर्मा तथा जिलाध्यक्ष मुर्शिद आलम उर्फ नेजाम खान, जुगनू यादव सहित कई आरजेडी के वरिष्ठ नेता भी शामिल हुए। वही इस प्रेस कांफ्रेंस ने बिहार विधान सभा के पूर्व स्पीकर उदय नारायण चौधरी ने कहा कि पिछले 21 सितम्बर को गुरूआ विधानसभा के रामा बिगहा में एक घटना घटी थी। एक दलित युवती के साथ बलात्कार कर हत्या कर दी गई थी। आज उसी संदर्भ में आरजेडी की एक टीम मृतक युवती के घर गई थी, जो भी वहां हमलोगों ने देखा एक दर्दनाक हृदय विदारक घटना घटी है। उन्होंने यह भी कहा कि इस घटना के कारण हमलोग मर्माहत है। देश में एक ही घटना के लिए दो कानून है। 

निर्भया हत्या कांड होती है तो पूरा देश हिलता है। लेकिन आज जो महादलित लड़की के साथ बलात्कार कर हत्या होता है तो सबलोग के मुह में ताला लगा होता है।आज उसी के उजागर करने के लिए आज हमलोग यहां आए है। उन्होंने कहा कि लड़की को एक स्टूडियो में बुलाया गया, घटना घटी सर्वविदित है। उन्होंने यह भी कहा कि लड़की के भाई से हमलोगों से बात हुई। उसके भाई ने बताया कि मेरी बहन दो लड़की के साथ गई थी। उसके साथ बलात्कार किया गया और उसके बाद  हत्या कर दिया गया। इसके बाद लाश लेकर घर मे फेक दिया गया। प्रशासन बिलकुल विफल है दोषियों के विरुद्ध कोई भी कार्रवाई नही कर रही है। जो अभी वर्तमान में थाना में पुलिस अधिकारी मौजूद है उनके द्वारा निष्पक्ष जांच की उम्मीद नही की जा सकती है। 

इसलिए हमलोग मांग कर रहे है कि जो भी दोषी है उनको शीध्र ही गिरफ्तार किया जाए। उन सभी दोषी को कड़ी से कड़ी सजा दिया जाये। उन्होंने यह भी कहा कि स्थानीय प्रशासन से जांच नही कराया जाए। किसी दूसरे आईपीएस पदाधिकारी अधिकारी से इसकी जांच कराया जाए। जिससे उस परिवार को न्याय मिल सके। ताकि इस तरह की घटना किसी दूसरे लड़की के साथ न हो।  लड़की का इलाज भी कराया गया है लेकिन प्रॉपर अस्पताल में नही कराया गया। इसकी भी जांच होना चाहिए। लड़की के भाई ने बताया है कि लड़की के कपड़े गीला था और बलात्कार के बाद  कपड़ा बदला हुआ था, इसकी भी जांच होना चाहिए। उन्होंने सरकार से मांग किया है कि पीड़ित परिवार को मुआवजा दिया जाए और प्रधान मंत्री आवास योजना मिलनी चाहिए।  माँ और पिता को वृद्धा पेंशन दिया जाए और सरकार की ओर से कानूनी लड़ाई लड़ने के लिए कानूनी सहायता भी दिया जाए।

गया से मनोज कुमार की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News