सात जिला प्रशासन के रवैये से सरकार हलकान, 25 दिन में इतना बड़ा लक्ष्य कैसे पार पायेगा विभाग

सात जिला प्रशासन के रवैये से सरकार हलकान, 25 दिन में इतना बड़ा लक्ष्य कैसे पार पायेगा विभाग

PATNA : समय 25 दिन और लक्ष्य 2 लाख टन गेहूं की खरीददारी का। जिला प्रशासन की सुस्ती ने सरकार को हलकान कर दिया है। अप्रैल से ही गेहूं की खरीद करना था लेकिन अभी तक सिर्फ 2700 क्विंटल गेहूं का खरीद हो पाया है। 30 जून तक गेहूं का खरीद का समय निर्धातित है अब 25 दिन बचे हैं उसमें सरकार को 2 लाख टन गेहूं खरीदना है।

सात जिलों ने गेहूं खरीद ही नहीं

विडम्बना देखिये एक तरफ सरकार लक्ष्य तय होने के बाबजूद गेहूं खरीद नहीं होने से परेशान है तो वहीं सात जिला प्रशासन ने छटाक भर भी गेहूं खरीदना मुनासिब नहीं समझा। शेखपुरा, कटिहार, मधुबनी, औरंगाबाद, सारण, वैशाली और जमुई जिला ने तो गेहूं खरीदना मुनासिब समझा ही नहीं, ऊपर से बहानेबाजी यह कि हमारा गोदाम ही भरा हुआ है।

गेहूं की खरीदारी नहीं होने से किसान है परेशान

सरकारी स्तर पर गेहूं खरीद नहीं होने की वजह से किसान कम कीमत में अपना गेहूं बाजार में बेचने को विवश है।सरकार के द्वारा गेहूं का रेट प्रति क्विंटल 1840 रुपये तय किया है। लेकिन समय से गेहूं की खरीद नहीं हो पाने की वजह किसान कम कीमत पर गेहूं बेचने को मजबूर है। 

हालांकि इस बीच सहकारिता मंत्री राणा रणधीर सिंह ने विभागीय मीटिंग कर अधिकारियों को निर्देश दिया है कि 25 दिनों के अंदर 2 लाख टन गेहूं की खरीद सुनिश्चित करें।

Find Us on Facebook

Trending News