बिहार विधानमंडल सत्र में राज्यपाल का संबोधन, सरकार जीरो टॉलरेंस पर कर रही काम

बिहार विधानमंडल सत्र में राज्यपाल का संबोधन, सरकार जीरो टॉलरेंस पर कर रही काम

पटनाः बिहार विधानमंडल का बजय सत्र शुरू हो गया। महामहिम राज्यपाल के अभिभाषण के साथ सत्र की शुरूआत हुई। राज्यपाल ने दोनों सदनों के संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि बिहार सरकार न्याय के साथ विकास का काम कर रही है। सरकार जीरो टॉलरेंस पर काम कर रही है।राज्यपाल ने कहा कि सरकार स्वास्थ्य के क्षेत्र में बड़े कदम उठाये हैं। पीएमसीएच को अपग्रेड किया जा रहा है। 

राज्यपाल ने बिहार सरकार कामों का उल्लेख किया और कहा कि राज्य सरकार हर क्षेत्रों में काम कर रही है। युवाओं को रोजगार,महिला उत्थान की दिशा में काम कर रही है। राज्यपाल ने कहा कि महिलाओं को सशक्त बनाने का काम किया जा रहा है। शिक्षक नियोजन में महिलाओं को पचास फीसदी का आरक्षण दिया गया है। अन्य नौकरियों में महिलाओं के लिए आरक्षण का प्रावधान किया गया है। बिहार में सात निश्चय-2 को लागू किया गया है। इसके तहत महिला,युवा,किसान समेत सात महत्वपूर्ण बिंदूओं पर काम किया जा रहा है।

राज्यपाल ने अभिभाषण में कहा कि बिहार के अधिकांश घऱों में नल का जल पहुंचा दिया गया है। बाकी बचे घरों में भी बहुत जल्द नल का जल पहुंचा दिया जाएगा। अब गांवों में स्ट्रीट लाइट लगाया जाएगा। मुर्गी पालन और मछली पालन को बढ़ावा दिया जाएगा।शहरों के विकास के लिए भी सरकार प्रयास कर रही है। शहर में रह रहे भूमिहीन लोगों को बहुमंजिली भवन में आवासन की व्यवस्था की जाएगी। सभी शहरों में नदी किनारे मोक्षधाम का निर्माण कराया जा रहा है। वृद्ध जनों के लिए आश्रयस्थल बनाया जाएगा। 

महामहिम राज्यपाल फागू चौहान ने कहा कि पुल-पुलियों का जाल बिछाकर 6 घंटे में पटना पहुंचने का लक्ष्य पूरा कर लिया गया है। अब इस लक्ष्य को घटाकर पांच किया गया है। इस लक्ष्य को पाने के लिए काम किया जा रहा है।


Find Us on Facebook

Trending News