पड़ोसी से लेना था बदला, इसलिए बाप ने अपनी ही बेटी का कर दिया खून, बच्ची के दादा और चाचा ने भी दिया साथ

पड़ोसी से लेना था बदला, इसलिए बाप ने अपनी ही बेटी का कर दिया खून, बच्ची के दादा और चाचा ने भी दिया साथ

PILIBHIT : बदला लेने के लिए कई किस्से सामने आते हैं। लेकिन बदले की ऐसी ही घटना शायद ही कभी सामने आती है, जब दूसरे से बदला लेने के लिए अपनी ही संतान का खून करना पड़े। यूपी के पीलीभीत में हत्या का एक ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां पिता ने अपनी नौ साल की बेटी अनम की हत्या कर दी। इस हत्या में बच्ची के दादा और चाचा ने भी पूरा साथ दिया। जब पुलिस ने हत्या की पड़ताल की तो वह हैरान रह गई।

दरअसल, पीलीभीत के अमरिया थाना के गांव माधोपुर में 2 दिन पहले गन्ने के एक खेत में 9 वर्षीय मासूम अनम का खून से सना शव मिला था। जिसके बाद एसपी दिनेश कुमार पी खुद मौके पर पहुंचे और छानबीन चालू कर दी।जिसमें एडिशनल एसपी, अमरिया थाना पुलिस, सुनगढ़ी थाना इंचार्ज, एसओजी की टीम और सर्विलांस की टीम को लगाया गया तो रोंगटे खड़े कर देने वाला खुलासा सामने आया। पुलिस को मृतका अनम के पिता ने तहरीर दी थी, जिसमें शकील नाम के व्यक्ति को आरोपी बनाया गया था। पुलिस ने अपनी जांच शुरू की। गांव वालों के सहयोग से पुलिस कातिलों तक पहुंची, तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ।

ऐसे दिया जघन्य हत्याकांड को अंजाम

2 दिसंबर की शाम शादाब मृतका अनम को मेला दिखाने के बहाने ग्राम सौदा पट्टी ले गया था. वहां पर सभी आरोपी एकजुट हुए और बच्ची को एक बाग में ले जाकर नींद की गोली खिला दी और पराली में छुपा दिया. फिर अगले सुबह चार बजे चाकू घोंपकर हत्या कर दी. इसके बाद उसे मरा समझकर शकील के खेत में फेंक दिया।  पुलिस अधीक्षक दिनेश पी ने घटना की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि कुछ समय के बाद वे दोबारा खेत पर आए. हैरान करने वाली बात यह है कि उस वक्त बच्ची जिंदा थी. वे सभी बच्ची के मरने का इंतजार करने लगे. इस दौरान उसका वीडियो भी बनाया

पुलिस को अनम के परिवार के सदस्यों पर तब संदेह हुआ जब गांव के कुछ चश्मदीदों ने पुलिस को बताया कि लड़की कभी लापता नहीं हुई थी. एसपी दिनेश ने कहा कि तब पांचों आरोपियों को हिरासत में ले लिया गया. पूछताछ के दौरान उन्होंने भीषण हत्या करना कबूल कर लिया।

इस कारण की थी बेटी की हत्या

पुलिस के अनुसार लड़की के पिता अनीस अहमद की 2018 से गांव के शकील के साथ पुरानी दुश्मनी थी। शकील का छोटा भाई शादाब अहमद उसकी बहन के साथ भाग गया था और बाद में परिवार की मर्जी के खिलाफ उससे शादी कर ली थी। उसके बाद शादाब के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 (बलात्कार) के तहत एक मामला अभी भी अदालत में लंबित है। इस शादी की वजह से दोनों परिवार में दुश्मनी चल रही थी और अनम के पिता शकील के परिवार से बदला लेना चाहते थे। जिसमें बलि मासूम बच्ची की ली गई। पुलिस ने मृतक अनम के दादा, पिता समेत 5 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।



Find Us on Facebook

Trending News