डीएम के दौरे के बाद भी नहीं सुधरी हाजीपुर सदर अस्पताल की व्यवस्था, इलाज कराने आये मरीजों की बढ़ी परेशानी

डीएम के दौरे के बाद भी नहीं सुधरी हाजीपुर सदर अस्पताल की व्यवस्था, इलाज कराने आये मरीजों की बढ़ी परेशानी

VAISHALI : हाजीपुर सदर अस्पताल का सिस्टम नए डीएम के दौरे के बाद भी नहीं सुधरा। जिले के नए डीएम यशपाल मीणा ने जब पदभार संभाला। इसके बाद लगातार जिले के कार्यालयों का सिस्टम सुधारने के लिए हर विभाग का दौरा कर रहे थे। इसी कड़ी में वह हाजीपुर सदर अस्पताल भी आए। लेकिन सदर अस्पताल की व्यवस्था सुधारने में वह नाकाम रहे। 


उन्हीं के अधिकारी उनकी बात मानने को तैयार नहीं है। ओटी में मौजूद स्वास्थ्य कर्मी की इस तरीके की लापरवाही सामने आई। जब उन्हें इसका आभास कराया गया ओटी में मौजूद इंचार्ज ने मीडिया कर्मी को धमकी देते हुए कहा कि आप डीएम के पास जाओ या स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे के पास जाओ। इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा। 

मरीज को इस तरीके से दौड़ाया जा रहा है। जैसे की मरीज अस्पताल में इलाज कराने नहीं भीख मांगने आये हो। इलाज कराने आये मरीज से हर सामान बाहर से मंगाया जाता है। यह हालत तब है की बिहार सरकार स्वास्थ्य सुविधाओं पर करोड़ों रुपए खर्च कर रही हैं। लेकिन स्वास्थ्य व्यवस्था अब भी सुधरने का नाम नहीं ले रहा है।

इस मामले पर जब सदर अस्पताल के उपाधीक्षक एसके वर्मा से बात की गई तो उन्होंने कहा कि हम जांच करते हैं। जल्द से जल्द कार्रवाई भी होगी। लेकिन बात तो यह है कि नए डीएम यशपाल मीना ने जब पदभार संभाला तो उन्होंने वैशाली की दुर्दशा बदलने की बात कही थी। लेकिन उनके दौरे से भी उनके अधिकारियों को कोई फर्क नहीं पड़ता है। 

वैशाली से राजकुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News