सिर्फ एक थप्पड़ मारने पर निपट गए पांच दारोगा और पांच पुलिसकर्मी, दर्ज होगा मुकदमा

सिर्फ एक थप्पड़ मारने पर निपट गए पांच दारोगा और पांच पुलिसकर्मी, दर्ज होगा मुकदमा

डेस्क। अपनी धौंस दिखाने के लिए बीएसएफ जवान को थप्पड़ मारना यूपी पुलिस को मंहगा पड़ गया। मामले में सीजेएम ने एक कोतवाल, पांच दारोगा और पांच सिपाहियों के खिलाफ मुकदमा चलाने का निर्देश दिया है। कोर्ट के इस आदेश के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है।

मामला हमीरपुर जिले के मौदहा थाने का है, जहां  इचौली गांव जहां रहनेवाले मो.शाहिद उर्फ छोटू दिल्ली में बीएसएफ में तैनात है. बीते साल 19 सितंबर को छुट्टी मिलने पर वह अगले दिन घर आया था. किसी मामले में जवान के परिजनों को 27 सितंबर 2020 को पुलिस मौदहा कोतवाली ले आई थी. जिसके बाद थानाध्यक्ष गुलाब सिंह ने बीएसएफ जवान को थप्पड़ जड़ दिया था। वहीं 5 दारोगा और 5 सिपाहियों ने जवान को पकड़कर उसकी जमकर पिटाई की थी। इस पिटाई का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। जिसके बाद मौदहा थाना प्रभारी गुलाब सिंह को एसपी ने निलंबित कर दिया था।

इन पुलिसकर्मियों पर मुकदमा चलाने के निर्देश

अब इस मामले में सीजेएम ने 156(3)के तहत 5 दरोगा और 5 सिपाहियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने का आदेश जारी कर दिया है. इस मामले में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की कोर्ट ने कोतवाली इंस्पेक्टर, दरोगा गुलाब सिंह, देवीदीन, जुबेर खान, देवेंद्र कुमार, मो. तोफीक अहमद तथा सिपाही राजेंद्र प्रसाद सरोज, संदीप मिश्रा, राहुल कुमार, अमित सिंह और रनवीर सिंह के खिलाफ सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कर विवेचना करने का आदेश दिया है. वहीं कोतवाली इस घटना में कोतवाली प्रभारी पर भी कार्यवाही हो सकती है.

Find Us on Facebook

Trending News