बहू के लिए की भाजपा से बगावत और अब मॉडल रह चुकी बहू संग यौन उत्पीडन के आरोपी हरक रावत हुए कांग्रेसी

बहू के लिए की भाजपा से बगावत और अब मॉडल रह चुकी बहू संग यौन उत्पीडन के आरोपी हरक रावत हुए कांग्रेसी

दिल्ली. उत्तराखंड में पार्टी विरोधी गतिविधियों को लेकर भाजपा से निकाले पूर्व मंत्री हरक सिंह रावत ने कांग्रेस का दामन थाम लिया है. उनकी बहू अनुकृति भी ससुर के साथ कांग्रेस में शामिल हो गई हैं. हरक को पार्टी के खिलाफ बगावती तेवर दिखाने के कारण रविवार को भाजपा से निकाल दिया गया था. वहीं मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रावत को कैबिनेट से बर्खास्त कर दिया था.

कहा जा रहा है कि रावत ने अपनी बहू अनुकृति के लिए टिकट माँगा था लेकिन पार्टी ने उनकी मांग नहीं मानी. इसी को लेकर हरक रावत की  भाजपा से दूरियां बढ़ी. अंत में उन्हें पार्टी ने निकालने तक का निर्णय ले लिया. अब उन्होंने बहू के साथ कांग्रेस में शामिल होकर भाजपा को सबक सिखाने की ठानी है. 

हरक सिंह रावत उत्तराखंड के बड़े कद के नेता माने जाते हैं. वे अविभाजित उत्तर प्रदेश में वर्ष 1991 कल्याण सिंह नीत भाजपा सरकार में मंत्री बने थे. बाद में उन्होंने कांग्रेस का दामन थामा. इसी दौरान जब उत्तर प्रदेश से अलग कर उत्तराखंड बना दिया गया तो वे यहाँ की राजनीति में सक्रिय हो गए. 2002 में राज्य में बनी कांग्रेस सरकार में भी रावत मंत्री बने लेकिन उन पर एक महिला ने यौन शोषण का आरोप लगाया जिसके बाद उन्हें मंत्री पद छोड़ना पड़ा. बाद में वे 20 12 में बनी कांगेस सरकर में विजय बहुगुणा के मुख्यमंत्री काल में भी मंत्री रहे और हरीश रावत के सीएम बनने के दौरान भी मंत्री बने. हालाँकि 2017 का चुनाव उन्होंने फिर से भाजपा के टिकट पर लड़ा और जीता. बाद में वे राज्य में मंत्री बने लेकिन एक बार फिर विधानसभा चुनाव के पूर्व उन्होंने कांग्रेस का दामन थाम लिया. 

उनकी बहू अनुकृति गुसाईं एक मॉडल और टीवी पेजेंटर रही हैं. 1994 में पैदा हुई अनुकृति ने 2013 में मिस इंडिया दिल्ली का ख़िताब जीता था और मिस इंडिया प्रतियोगिता में पांचवें नम्बर पर थी. 20 18 में उनकी शादी हरक सिंह रावत के बेटे तुषित रावत से हुई. माना जा रहा है कि अनुकृति को लैंसडाउन विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार बनाया जा सकता है. 


Find Us on Facebook

Trending News