हवाई जहाज के किराए में 30 प्रतिशत तक कि भारी वृद्धि,अब घरेलू सफर के लिये देना पड़ेगा ज्यादा किराया

हवाई जहाज के किराए में 30 प्रतिशत तक कि भारी वृद्धि,अब घरेलू सफर के लिये देना पड़ेगा ज्यादा किराया

डेस्क... एनडीए सरकार ने हवाई जहाज के किराए में भारी वृद्धि की है जिससे घरेलू हवाई सफर करने के लिए यात्रियों को 30 फ़ीसदी तक ज्यादा किराया चुकाना पड़ेगा इस संबंध में नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने घरेलू उड़ानों के किराए में 10 से 30 फ़ीसदी तक वृद्धि की घोषणा कर दी है बताया गया है कि यह 31 मार्च या अगले आदेश तक प्रभावी रहेगा नागरिक उड्डयन मंत्रालय के घरेलू उड़ानों के किराए में वृद्धि के बाद 10 से 30 फ़ीसदी तक कि ज्यादा रकम यात्रियों को चुकाना होगा वृद्धि की घोषणा सात श्रेणी के उड़ानों में किया गया है । 

अब जरा समझ लीजिए की कितनी दूरी के लिए कितनी वृद्धि की गई है। 40 मिनट से कम न्यूनतम किराया 2000 से बढ़ाकर 2200 कर दिया गया वहीं अधिकतम किराया 6000 से बढ़ाकर 7800 कर दिया गया है ।इसी तरह 40 से 60 मिनट का न्यूनतम किराया 2500 से बढ़ाकर 2800 कर दिया गया है वहीं अधिकतम 7500 से बढ़ाकर 9800 कर दिया गया है। 90 से 120 मिनट की दूरी तय करने के लिए न्यूनतम किराया 3500 से बढ़ाकर 3900 कर दिया गया है वही अधिकतम किराया 10,000 से बढ़ाकर 13000 कर दिया गया है। 120 से 150 मिनट की दूरी के लिए न्यूनतम किराया 4500 5000 कर दिया गया है तो अधिकतम किराया 13000 से बढ़ाकर 16900 कर दिया गया है इसी तरह 150 से 180 मिनट की दूरी के लिए न्यूनतम किराया 5500 से बढ़ाकर 6100 कर दिया गया है तो अधिकतम किराया 15700 से बढ़ाकर 20400 कर दिया गया है। वही 180 से 210 मिनट की दूरी के लिए न्यूनतम किराया 6500 से बढ़ाकर 7200 कर दिया गया है अधिकतम किराया 18600 से बढ़ाकर 24200 कर दिया गया है।

अंतराष्ट्रीय उड़ानों पर है रोक

गौरतलब है कि कोरोना की वजह से भारत में अंतरराष्ट्रीय हवाई सेवा पर 23 मार्च 2020 से ही रोक लगा हुआ है ।हालांकि एयर बबल करार के  तहत विभिन्न देशों के साथ हुए समझौतों हुआ था । जिसके बाद जुलाई 2020 से कुछ विशेष उड़ानों का परिचालन किया जा रहा है ।बता दें कि कोरोना की वजह से विमान कंपनियों का व्यापार बुरी तरह प्रभावित हुआ है ।यहां तक कि विमानन कंपनियों को भारी मात्रा में अपने कर्मचारियों की छटनी करने पर मजबूर होना पड़ा है। इन सारी बातों को ध्यान में रखते हुए सरकार ने हवाई यात्रा किराए में 30% तक वृद्धि करने का निर्णय लिया है। जिसमें बताया गया है कि यह आदेश विमान कंपनियों पर अगले 31 मार्च या भावी आदेश तक प्रभावी रहेगा।


Find Us on Facebook

Trending News