प्रदेश में स्वास्थ्य व्यवस्था का हाल, अस्पताल से डॉक्टर नदारद, नहीं मिली एंबुलेंस, मरीज की चली गई जान

प्रदेश में स्वास्थ्य व्यवस्था का हाल, अस्पताल से डॉक्टर नदारद, नहीं मिली एंबुलेंस, मरीज की चली गई जान

NAWADA : राज्य सरकार हर जिले और पंचायत में कहने को तो अस्पताल खोल दिए गये है, लेकिन उनका हाल-बेहाल है। आलम यह है कि न तो वहां जरुरत पड़ने पर डॉक्टर उपलब्ध हैं और न ही एंबुलेंस। जिसकी मरीज तड़प-तड़प कर जान देने को मजबूर है। ताजा मामला नवादा जिले के नादरीगंज से सामने आया है। जहां पीएचसी में डॉक्टर नहीं होने की वजह से मरीज की मौत हो गई है। 

घटना के संबंध में बताया गया है कि नारदीगंज थाना क्षेत्र के झूनाटी गांव निवासी शिल्पी कुमारी को पेट में दर्द की शिकायत हुआ। दर्द से बैचैन महिला के परिजन ने किसी तरह से नारदीगंज पीएचसी में भर्ती तो कराया। लेकिन वहां डयूटी पर कोई  डॉक्टर मौजूद नहीं थे। हंगामा होने के बाद एक महिला डॉक्टर पहुंच मरीज को देखी और उसे नवादा सदर अस्पताल रेफर कर दिया। 

मरीज के परिजन ने बताया कि सदर अस्पताल ले जाने के लिए एंबुलेंस की खोज की गई थी तो पता चला कि ड्राइवर घर चला गया था। वहीं मरीज को आक्सीजन भी अस्पताल की ओर से नहीं मिला। किसी तरह ड्राइवर को खोज मरीज को नवादा लेकर निकले, लेकिन देर होने की वजह से उसकी रास्ते में ही मौत हो गई। 

नवादा से अमन सिन्हा की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News