स्वास्थ्य व्यवस्था की खुली पोल! लालू सरकार ने पशुओं का चारा खाया, नीतीश सरकार ने उनके लिए अस्पताल में कर दिया चारे का इंतजाम

स्वास्थ्य व्यवस्था की खुली पोल! लालू सरकार ने पशुओं का चारा खाया, नीतीश सरकार ने उनके लिए अस्पताल में कर दिया चारे का इंतजाम

MUZAFFARPUR : बिहार के मुखिया नीतीश बाबू के उप स्वास्थ्य केंद्र का एक और तस्वीर सामने आयी है जो अब खंडहर में तब्दील हो चुकी है । जहां मरीजों के भर्ती होने की जगह जानवरों के चारे याने की भूसा रखा हुआ है। यह तस्वीर है बिहार के मुखिया नीतीश कुमार के 15 सालो के स्वास्थ्य व्यवस्था के कार्यशैली का पोल खोल रही है। इसका खुलासा मुजफ्फरपुर जिले में जाप के पूर्व छात्र जिला अध्यक्ष सुल्तान अली ने किया है। लालू सरकार में जहां पशुओं के चारा खाने का मामला सामना आया था, वहीं नीतीश सरकार भी इसी राह पर चलते हुए अस्पतालों को ही पशुओं के लिए चारागाह बना दिया। सवाल यह है दोनों में अब क्या अंतर रहा।

मुजफ्फरपुर जिले के कुढ़नी प्रखंड अंतर्गत जमहरूआ पंचायत के मुरौल गांव में एक उपस्वास्थ्य केंद्र है जो वर्षों से बंद पड़ा है जिस पर न कोई विधायक और ना कोई सांसद का इस महामारी में भी अभी तक कोई ध्यान गया और न ही स्वास्थ सुविधा को चालू कराने की कोशिश किया । वह इस उप स्वास्थ्य केंद्र में कई ऐसे कमरे में कचरो का अंबार लगा हुआ है। तो उप स्वास्थ्य केंद्र के आने-जाने के रास्ते में घास फूस उगे हुए हैं तो वही भूसा रखा हुआ है। ऐसा लगता है कि उपस्वास्थ्य केंद्र कोई सुध लेने वाला कोई नहीं।

आज के निरीक्षण में छात्र के पूर्व जिला अध्यक्ष ने उपस्वास्थ्य केंद्र का हाल जाना वहीं उन्होंने कहा कि आगे भी सरकार की पोल खोल जारी रहेगा। यह हालत है नीतीश बाबू की स्वास्थ्य व्यवस्था का। इस दौरान मौके पर सुल्तान अली (पूर्व छात्र जिलाध्यक्ष), मो.शाहिद (युवा प्रदेश सचिव) बिहार, विकास कुमार, मोहम्मद महमूद, अमरेंद्र कुमार, दिवाकर कुमार  इत्यादि लोग शामिल हुए।


Find Us on Facebook

Trending News