राजीवनगर अतिक्रमण मामले पर आज हाईकोर्ट में सुनवाई, हाउसिंग बोर्ड को देना होगा जवाब

राजीवनगर अतिक्रमण मामले पर आज हाईकोर्ट में सुनवाई, हाउसिंग बोर्ड को देना होगा जवाब

PATNA : पटना के राजीव नगर स्थित नेपाली नगर में इस माह की शुरूआत में जिला प्रशासन ने सरकारी जमीन पर अवैध निर्माण को लेकर जिस तरह से आनन फानन में कार्रवाई की, उसके बाद वह बुरी तरह से घिर चुकी है। आज इस मामले में पटना हाईकोर्ट में सुनवाई होनी है। सुनवाई के समय पटना के डीएम, सीओ और हाउसिंग बोर्ड के एमडी को भी उपस्थित रहने को कहा गया है। पिछली सुनवाई के दौरान अधिकारीगण उपस्थिति नहीं थे। जस्टिस संदीप कुमार की एकल पीठ में दोपहर 2.15 बजे सुनवाई होगी।

सरकारी वकील किंकर कुमार ने बताया कि राज्य सरकार की ओर से जवाबी हलफनामा दायर कर दिया गया है जिसपर अब कोर्ट को विचार करना है। उन्होंने कहा कि सरकार का पक्ष मजबूती के साथ कोर्ट के समक्ष रखा जाएगा। उधर याचिकाकर्ता के वकील शेखर सिंह ने बताया कि सरकार की ओर से जो जवाब दिया गया है उसका प्रत्युत्तर दिया जा रहा है।

वहीं दूसरी तरफ राजीवनगर के नेपालीनगर में गत दिनों अतिक्रमण हटाने के दौरान हुई घटना को लेकर पटना के डीएम, अनुमंडलीय दंडाधिकारी और अंचलाधिकारी के खिलाफ मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में बुधवार को एक शिकायती मुकदमा दायर किया गया। मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी विजय किशोर सिंह की अदालत में यह मुकदमा समाजसेवी प्रेमचंद्र सिंह ने डीएम डाॅ चंद्रशेखर सिंह, सदर अनुमंडलीय दंडाधिकारी नवीन कुमार और सदर अंचलाधिकारी जितेंद्र पांडे के खिलाफ भादवि की धारा 166, 167, 323 ,324, 353, 354,504 और 120 के तहत दाखिल किया है।

बता दें पिछले दिनों नेपाली नगर की 400 एकड़ जमीन पर हाउसिंग बोर्ड ने यह दावा कि यहां हुआ निर्माण पूरी तरह से अवैध है। जिसके बाद आनन फानन में जिला प्रशासन ने कई घरों पर बुलडोजर चला दिया था। पहले दिन की कार्रवाई के बाद हाईकोर्ट ने इस पर रोक लगा दी थी। साथ ही हाउसिंग बोर्ड से पूछा था कि वह अब तक कहां थे। इस दौरान हाउसिंग बोर्ड के 25 साल के सभी बड़े अधिकारियों की पूरी जानकारी देने के निर्देश दिए थे।


Find Us on Facebook

Trending News