तकनीकी कारण से नवादा में नहीं उड़ सका हेलीकॉप्टर, 15 मिनट तक इन्तजार करते रहे सीएम नीतीश

तकनीकी कारण से नवादा में नहीं उड़ सका हेलीकॉप्टर, 15 मिनट तक इन्तजार करते रहे सीएम नीतीश

NAWADA : जिले के नारदीगंज प्रखंड स्थित मोतनाजे गांव में गंगाजल उद्वह परियोजना का जायजा लेने के लिए सीएम नीतीश पहुंचे। उन्होंने साफ आदेश दिया है कि काम को जल्द पूरा किया जाए। हाथीदह से सबसे पहले गंगा नदी का पानी डिटेंशन टैंक नवादा जिला के मोतनाजे में बनाया गया है।

बता दें कि बिहार के गया और नालंदा जिले के जल संकट के समाधान के लिए 'गंगा उद्वह परियोजना' के तहत 190 किमी पाइपलाइन के जरिए गंगा नदी का पानी मोकामा के हथिदह से नवादा तक पहुंचाने का 24 मई को ट्रायल हुआ था। इस योजना के तहत गंगा का जल गया तक भी पहुंचा दिया गया है। जिसका उद्घाटन शनिवार को बिहार के सीएम नीतीश ने किया है। 

नवादा जिले के नारदीगंज प्रखंड स्थित मोतनाजे गांव में  गंगाजल उद्वह परियोजना का ट्रायल पूरी तरह सफल रहा था। पाइपलाइन के जरिए पटना जिले के हाथीदह से गंगा का पानी नालंदा होते हुए नवादा के मोतनाजे पहुंचा। अब सीधा नवादा से होते हुए गया में गंगाजल का शुभारंभ कर दिया गया है। नवादा पहुंचने पर नवादा जिला अधिकारी उदिता सिंह, पुलिस कप्तान डॉ गौरव मंगला, सदर एसडीओ उमेश कुमार भारती, सदर डीएसपी उपेंद्र प्रसाद आदि तमाम अधिकारी उपस्थित थे।

वहीँ नवादा में सीएम नीतीश कुमार जैसे ही हेलीकॉप्टर में बैठे और हेलीकॉप्टर को उड़ान भरना था। वैसे ही टेक्निकल प्रॉब्लम के कारण हेलीकॉप्टर उड़ान नहीं भर पाया। 15 मिनट के बाद सीएम नीतीश कुमार के हेलीकॉप्टर उड़ान भरा। 15 मिनट बिहार के सीएम नीतीश कुमार हेलीकॉप्टर में बैठे रहे। हालांकि बताया जाता है कि हेलीकॉप्टर में फ्यूल खत्म हो गया था। जिसके कारण ही सीएम नीतीश को थोड़ा देर इंतजार करना पड़ा। फ्यूल खत्म होने की पुष्टि भी किसी अधिकारी के द्वारा नहीं किया गया है।

नवादा से अमन सिन्हा की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News