हाय रे बिहार पुलिस! बालू ट्रकों से 'वसूली' का नया 'ट्रेंड' देख 'शातिर गिरोह' भी शरमा जाए, देखें VIDEO

हाय रे बिहार पुलिस! बालू ट्रकों से 'वसूली' का नया 'ट्रेंड' देख 'शातिर गिरोह' भी शरमा जाए, देखें VIDEO

PATNA: बिहार में पुलिस की वसूली का नया ट्रेंड सामने आया है। पुलिस की अवैध वसूली का नया तरीका देख बड़े से बड़े शातिर भी शरमा जायेंगे। जी हां यह ट्रेंड पटना से सटे अरवल पुलिस ने इजाद किया है। अब तक तो पुलिस द्वारा ट्रकों को रोककर वसूली की जाती थी . वही तस्वीर सबलोग देखते आये हैं। लेकिन वो स्टाईल अब पुराना पड़ गया है। लिहाजा पुलिस ने नया तरीका इजाद किया। बिहार की पुलिस ने जो नया फार्मूला इजाद किया है उससे वसूली का धंधा भी हो जा रहा और सड़कों पर धंधे की वजह से गाड़ियों का जाम भी नहीं लग रहा। साथ ही अवैध वसूली में पकड़े जाने का भय भी नहीं रह रहा।

 वसूली का नया 'ट्रेंड' देख 'शातिर गिरोह को भी शर्म आ जाये

दरअसल बिहार पुलिस का एक वीडियो सामने आया है। वीडियो में पुलिस बालू ट्रक चालकों से अवैध वसूली कर रही है। हालांकि पुलिस की वसूली की बात कोई नई नहीं है। लेकिन इस वीडियो में जो नई बात है वो यह कि पुलिस ने अपना ट्रेंड बदल लिया है। अवैध वसूली का वीडियो अरवल पुलिस का बताया जाता है। वीडियो में पुलिस चलते ट्रकों से पैसे की वसूली कर रही है। बालू लदा ट्रक जिस कतार में जा रहा उसके विपरीत दिशा में पुलिस की गाड़ी चल रही।ट्रक जैसे ही पुलिस गाड़ी के सामने आता है सूमो-विक्टा में बैठा पुलिसवाला चलती गाड़ी से ही हाथ निकालता है और चलती ट्रक का ड्राईवर पुलिस के हाथ में पैसे थमा आगे बढ़ जाता है। पुलिस की गाड़ी बिना रूके आगे बढ़ते रहती है । गाड़ी में बैठा पुलिस वाला यही काम फिर से करता है और ट्रक का ड्राईवर नोट थमा देता है। पुलिस की गाड़ी कई किमी के दायरे में राउंड करती है और ट्रक वाले पुलिस के हाथ में नोट थमा देते हैं। वायरल वीडियो अरवल के सोन नदी पुल के समीप का बताया जा रहा है। अब पुलिस की वसूली का नया ट्रेंड वाला वीडियो सामने आने के बाद लोग भौचक्के हैं। हालांकि पुलिस की वसूली वाले वीडियो की सत्यता की पुष्टि न्यूज4नेशन नहीं करता है।

राजद ने बिहार की पुलिस को बताया गिरोह  

पुलिस की अवैध वसूली के नये ट्रेंड को पीछे वाली गाड़ी में सवार शख्स ने कैद कर लिया। उसी वीडियो को अब राजद ट्वीट कर सार्वजनिक किया है। राजद ने बिहार की पुलिस को गिरोह की संज्ञा दिया है। आरजेडी ने कहा है कि गिरोह का सरगना नीतीश कुमार हैं। जिनके आय का श्रोत घूसखोरी, शराब व्यापार, अवैध वसूली, हिरासत में हत्या, टार्गेटेड किलिंग, RCP टैक्स वसूली है.



Find Us on Facebook

Trending News