राजधानी में फिर एक हत्या! पुलिस बनकर आए अपराधियों ने रेलवे ठेकेदार को गाड़ी से रौंदकर मार डाला

राजधानी में फिर एक हत्या! पुलिस बनकर आए अपराधियों ने रेलवे ठेकेदार को गाड़ी से रौंदकर मार डाला

पटना। अपराध प्रदेश बनती जा रहे बिहार की राजधानी पटना एक बार खून से लाल हो गई है। इस बार अपराधियों ने एक रेलवे ठेकेदार की हत्या की घटना को अंजाम दिया है।  जिले के खुसरूपुर थाना क्षेत्र के शफीपुर गांव में रविवार की रात करीब नौ बजे पुलिस बनकर आये आरोपितों ने पहले रेलवे के ठेकेदार शकील अहमद 45 को अगवा करने की कोशिश की। नाकाम रहने पर उसे लग्जरी गाड़ी से रौंदकर मार डाला। यह घटना मृतक के घर के पास घटी।  हत्या का कारण भूमि विवाद को बताया जा रहा है।

एक हत्यारे को ग्रामीणों ने पकड़ा

 वारदात को अंजाम देने के बाद भाग रहे एक आरोपित को ग्रामीणों ने पकड़ लिया और उसकी जमकर पिटाई करते हुए पुलिस के हवाले कर दिया, जबकि अन्य आरोपित लग्जरी कार पर सवार होकर भाग गये। पकड़ा गया आरोपित विवेक कुमार बख्तियारपुर थाना क्षेत्र के राघोपुर राजपुताना निवासी शिवकुमार सिंह का बेटा है। घटना के पीछे भूमि नहीं लिखना बताया गया है। 

हाइवे के पास जमीन बेचने के लिए बना रहे थे दबाव
बताया गया है कि मारा गया शकील अहमद शकील शफीपुर गांव निवासी मो. सरफराज का बेटा था। पटना में छोटी-मोटी ठेकेदारी करता था। परिवार सहित वह अपने गांव शफीपुर में ही रहता था। परिवारजनों के मुताबिक लोदीपुर स्थित शकील के बहन की फोरलेन किनारे 28 कट्ठा जमीन थी। आरोपित उक्त भूखंड में दो के हिस्से की भूमि लिखवा चुके हैं। वे लोग शकील के हिस्से की भी भूमि लेना चाहते थे। कई बार उन लोगों ने शकील पर भूमि लिख देने का जबरन दबाव बनाया लेकिन वह भूमि रजिस्ट्री करने को तैयार नहीं था। इसको लेकर आरोपित उससे रंजिश रख रहे थे।

अपहरण की कोशिश नाकाम होने पर गाड़ी से रौंदा

 रविवार की रात करीब नौ बजे कार पर सवार होकर करीब पांच लोग उसके घर पर चढ़ आये और शकील को बुलाकर ले गये। घर से कुछ दूर जाने पर आरोपित उसे अगवा कर कार में बैठाने लगे। तभी उसने चिल्लाते हुए भागने का प्रयास किया। भीड़ जुटती देख अगवा करने में नाकाम आरोपितों ने कार से उसे रौंद दिया, जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। बताया गया है कि वह रेलवे में ठेकेदारी करता था तथा नेकदिल इंसान था। उसे एक पुत्र और एक पुत्री है। मौत की खबर पर घर में कोहराम मचा है। घटना की सूचना पर फतुहा एसडीपीओ राजेश कुमार मांझी और थानाध्यक्ष सरोज कुमार दलबल पहुंच मामले की तहकीकात की। भागे अपराधियों की खोज की जा रही है।
 

Find Us on Facebook

Trending News