बिहार में नहीं चलेगी हिंदू-मुसलमान की राजनीति, अमित शाह के दौरे के पहले तेजस्वी ने दिखाया भाजपा को आइना

बिहार में नहीं चलेगी हिंदू-मुसलमान की राजनीति, अमित शाह के दौरे के पहले तेजस्वी ने दिखाया भाजपा को आइना

पटना/दिल्ली. उप उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने शनिवार को कहा कि गृह मंत्री अमित शाह के बिहार दौरे का असर राज्य पर बिल्कुल नहीं पड़ेगा। बिहार में अब हिंदू मुसलमान करके वहां राजनीति नहीं कर पाएंगे। बिहार समाजवादियों की धरती है ऐसे लोगों को बिहार नकारती रही है और आगे भी नकारती रहेगी। दिल्ली में न्यूज़4नेशन से विशेष बात करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार में शाह का कोई असर नहीं होने वाला है. अपने दिल्ली दौरे को लेकर तेजस्वी ने कहा कि हमारे इस दिल्ली दौरे में विपक्षी नेताओं से मुलाकात करने का कोई कार्यक्रम नहीं है।

वहीं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के दिल्ली दौरे को लेकर BJP के सवाल उठाने पर तेजस्वी यादव ने कहा कि अब तो मुझे बीजेपी के सवाल का जवाब देने का भी मन नहीं करता है। उनके सवाल में कुछ रहता नहीं है। बिना हाथ पांव के सवाल पूछते हैं। नीतीश कुमार दिल्ली दौरे पर आए तो बीजेपी वालों के छाती पर सांप क्यों लोट रहा है? क्या भाजपा का कोई मुख्यमंत्री दिल्ली दौरे पर नहीं आता है। 

उन्होंने कहा कि बिहार में सरकार बदली इसके बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहली बार दिल्ली आए तो लोगों से औपचारिक मुलाकात की है। इसीलिए बीजेपी वालों के बात का इतना ध्यान नहीं देना है। सब बकवास की बात करते हैं। लखनऊ के सपा कार्यालय में नीतीश कुमार के समर्थन में लगे पोस्टर को लेकर तेजस्वी ने कहा कि उत्तर बिहार में यूपी और बिहार की भूमिका बहुत बड़ी रहती है। आगामी लोकसभा चुनाव में यूपी और बिहार के लोग ही देश का मूड तय करेंगे। 

पीएम पद के लिए नीतीश कुमार के चेहरे को लेकर तेजस्वी यादव ने कहा कि  मुख्यमंत्री नीतीश ने पहले ही प्रधानमंत्री का चेहरा बनने से इनकार कर दिया है। नीतीश कुमार का केवल एक ही लक्ष्य है विपक्ष एकजुट हो जाए और आगामी लोकसभा चुनाव में एक साथ लाकर चुनाव लड़े।



Find Us on Facebook

Trending News